37.4 C
Jodhpur

मेजर ने कार पश्चिमी बंगाल भेजने के लिए सौंपी, किराया व कार लेकर ट्रांसपोर्टर हुआ गायब

अलर्ट : ऑनलाइन सर्विस प्रोवाइडर या किसी के नंबर सर्च करने में बरते सावधानी

spot_img

Published:

जोधपुर। सर्विस के लिए ऑनलाइन सर्विस प्रोवाइडर ढूंढ़ना सेना के एक मेजर को भारी पड़ गया। उन्होंने एक वेबसाइट पर इन्क्वायरी की, उसके बाद एक शख्स ने फोन कर कार पहुंचाने के लिए ऑफर दे दिया। मेजर ने जोधपुर से पश्चिमी बंगाल के कंचरापारा में कार पहुंचाने के लिए पैसे भी दिए, कार भी दे दी। कार छावनी एरिया से पश्चिमी बंगाल के लिए रवाना तो हुई, लेकिन वहां पहुंची नहीं। अब मेजर ने पुलिस में मामला दर्ज करवाया है।

कार बुकिंग के लिए बिल्टी बनाकर दी, रसीद भी जारी की

हुआ यूं कि जोधपुर छावनी में तैनात मेजर विनय कुमार को अपनी स्विफ्ट स्वीफ्ट कार जोधपुर से कंचरापारा भेजनी थी। इसके लिए उन्होंने सुलेखा नामक वेबसाइट पर ट्रांसपोर्टर के बारे में इन्क्वायरी की। इसके बाद 16 जुलाई को उनसे महेन्द्र चौधरी नाम के एक शक्स ने संपर्क कर कहा कि वह छह दिन में कार गंतव्य तक पहुंचा देगा। इसके लिए उसने 23 हजार रुपए भाड़ा बताया। भाड़े को लेकर बार्गेनिंग के बाद यह राशि 21 हजार 500 रुपए तय हो गई। मेजर ने बतौर एडवांस 17 हजार 200 रुपए महेन्द्र को दे दिए। महेन्द्र 17 जुलाई की रात करीब 10 बजे कार लेने के लिए छावनी में पहुंच गया। रात करीब पौने ग्यारह बजे कार लेकर वह आर्मी कैंट के गेट नंबर दो से बाहर निकला। महेन्द्र ने भरोसा दिलाया था कि वह 24 जुलाई की रात आठ बजे तक कार कंचरापारा पहुंचा देगा। कार समय पर नहीं पहुंची तो मेजर ने महेन्द्र के नंबर पर कॉल किए, लेकिन उसने अपना फोन बंद कर रखा है। कार की कोई खैर-खबर नहीं मिली तो वे रातानाडा थाना पहुंचे और महेन्द्र के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा कर कहा है कि महेन्द्र चौधरी ने मेरे उनके साथ धोखाधड़ी करते हुए एडवांस राशि व कार हड़प ली है।

पाली व अजमेर से कनेक्शन

मेजर ने पुलिस को आरोपी के जो मोबाइल नंबर दिए हैं, उसे सर्च करने पर पता चला है कि आरोपी का पाली व अजमेर से कनेक्शन है। राजनीतिक व संगठनात्मक रूप से भी वह कई संस्थाओं से जुड़ा हुआ है। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर ऐसे कई पोस्टर, बैनर व फोटो है, जिन पर महेन्द्र नामक युवक के साथ यही नंबर दर्ज है। यहां तक कि एक पेकर्स एंड मूवर्स का काम करने वाली कंपनी के विजिटिंग कार्ड व पोस्टर पर भी इसी नंबर को दर्शाया गया है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!