37.4 C
Jodhpur

बंधे हाथ खुले: बाड़मेर पुलिस ने 6.60 करोड़ रुपए कीमत का 44 क्विंटल डोडा-पोस्त पकड़ा, दो तस्कर गिरफ्तार

spot_img

Published:

– बाड़मेर डीएसटी का बड़ा एक्शन, कल्याणपुर पुलिस टीम के साथ की संयुक्त कार्रवाई

– एक शातिर पर घोषित हो रखा था 12 हजार रुपए का इनाम, शातिर झारखंड से लेकर आए थे नशे की खेप,

नारद डेस्क। सोमवार को प्रदेश में विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही आचार संहिता लागू हुई, तो अंदरखाने चर्चाएं भी शुरू हो गई कि अब पुलिस हो या प्रशासन, किसी के हाथ बंधे नहीं है। यानि, बंधे हाथ खुल गए और बदमाशों पर आफत आनी तय हो गई। सोमवार को ही बाड़मेर पुलिस की डीएसटी ने एक बड़ा एक्शन लेते हुए 6 करोड़ 60 लाख रुपए कीमत का 44 क्विंटल डोडा-पोस्त जब्त कर दो तस्करों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़ में आया एक बदमाश तो तीन जिलों में वांछित था और इसकी गिरफ्तारी पर कुल 12 हजार रुपए का इनाम भी घोषित हो रखा था। डीएसटी ने इस कार्रवाई को कल्याणपुर पुलिस का सहयोग लेकर अंजाम दिया नेशनल हाई वे पर स्थित डोली गांव की सरहद क्षेत्र में। जहां नाकाबंदी कर टीम ने एक ट्रक में कट्‌टों में भरा डोडा-पोस्त पकड़ा। आईजी (जोधपुर रेंज) जयनारायण शेर ने बड़ी कार्रवाई के लिए टीम को बधाई दी।

एसपी (बाड़मेर) दिगंत आनंद ने बताया कि चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर मादक पदार्थ तस्करों पर प्रभावी कार्रवाई करने के लिए सभी अधिकारियों को खास हिदायत दी गई थी। इसी बीच, सोमवार को मुखबिर से सूचना मिली कि रांची, झारखंड से एक ट्रक में भारी मात्रा में डोडा-पोस्त तस्करी कर बाड़मेर लाया जा रहा है। पुख्ता सूचना के आधार पर एसएचओ ग्रामीण व डीएसटी प्रभारी सवाईसिंह की अगुवाई में कल्याणपुर थाना इलाके में सरहद डोली पर नाकाबंदी की गई। यहां पुलिस टीम ने जोधपुर की ओर से आ रहे एक संदिग्ध ट्रक को रुकवाकर तलाशी ली, तो उसमें रखे 191 कट्‌टों में कुल 44 क्विंटल डोडा पोस्त बरामद हुआ। इस पर पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर ट्रक में सवार शिव थानांतर्गत पोसाल निवासी देवाराम जाट पुत्र भानाराम और जालोर के बागोड़ा थानांतर्गत खोखा निवासी प्रकाश जाट पुत्र मोडाराम को गिरफ्तार कर लिया।

तस्कर हनुमान के लिए लेकर आए थे खेप

पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि वे दोनों यह मादक पदार्थ जालोर के खरी निवासी तस्कर हनुमान जाट पुत्र जालाराम के लिए के लिए लेकर आ रहे थे। दोनों आरोपियों के क्रिमिनल रिकॉर्ड खंगालने पर पता चला कि बदमाश देवाराम पर बाड़मेर व जैसलमेर जिले में 5-5 हजार और बालोतरा जिले में 2 हजार रुपए का इनाम घोषित हो रखा है। इसके खिलाफ चोरी के पांच प्रकरण भी दर्ज हो रखे हैं।

वाहन चोर देवाराम: फरारी में तस्कर गैंग से जुड़ सप्लायर बन गया

एसपी दिगंत आनंद के अनुसार देवाराम वाहन चोरी से अपराध की शुरुआत की। बाड़मेर, जैसलमेर तथा बालोतरा में ट्रैक्टर की व अन्य छोटी-मोटी चोरी किया करता था। फरारी के दौरान यह डोडा पोस्त तस्करों के संपर्क में आया और उनके साथ बड़े पैमाने पर झारखंड से पश्चिम राजस्थान में डोडा पोस्त की तस्करी के गिरोह के संचालन में सहयोगी बना। झारखंड के नक्सली प्रभावित क्षेत्र में दो-तीन महीने रह कर वहां के स्थानीय तस्करों से संपर्क कर डोडा पोस्त की सप्लाई करने लगा।

आरोपी ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस तथा स्वर्णिम चतुर्भुज एक्सप्रेस वे पर भारी ट्रैफिक का फायदा उठा ट्रक से डोडा पोस्त की सप्लाई शुरू कर दी। हर बार गाड़ी व रूट बदल-बदल कर तस्करी करता था। राजस्थान में प्रवेश होते ही इनका साथी प्रकाश पूनिया निवासी लापुणन्दड़ा ट्रक को एस्कॉर्ट करते हुए पुलिस नाकाबंदी की जानकारी देता रहता।

बड़ी कार्रवाई में अहम भूमिका कांस्टेबल शिवरतन व नींबसिंह की

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस कार्रवाई में डीएसटी के कांस्टेबल शिवरतन व निम्ब सिंह की विशेष भूमिका रही। टीम का नेतृत्व एसएचओ ग्रामीण सवाई सिंह व एसएचओ कल्याणपुर गीता ने किया। टीम में डीएसटी से एएसआई अमीन खान, हेड कांस्टेबल मेहाराम, कांस्टेबल भूपेंद्र सिंह, शिवरतन, निम्ब सिंह, किशोर, लुम्भा राम, कमांडो दिनेश, डामरा राम, चालक स्वरूप सिंह व थाना शिव से कांस्टेबल मालाराम शामिल थे।

#Tied hands opened: Barmer police caught 44 quintals of doda-poppy worth Rs 6.60 crore, two smugglers arrested

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!