25.7 C
Jodhpur

मुख्यमंत्री ने जोधपुर में 139 करोड़ के विकास कार्यों का किया लोकार्पण व शिलान्यास

लोक कला नगर आवासीय योजना, चौखा की आवेदन पुस्तिका किया विमोचन अगस्त में अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना, स्मार्टफोन वितरण की होगी शुरुआत

spot_img

Published:

जोधपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को जोधपुरवासियों को 139 करोड़ रुपए लागत के विकास कार्यों की सौगात दी। गहलोत ने मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सरदारपुरा, सूरसागर, जोधपुर शहर और लूणी विधानसभा क्षेत्रों के 308 विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। साथ ही, लोक कलाकारों के आवास के सपनों को साकार करने के लिए जोधपुर विकास प्राधिकरण द्वारा लोक कला नगर आवासीय योजना, चौखा की आवेदन पुस्तिका का विमोचन भी किया। उन्होंने समारोह में कहा कि जोधपुर में सुगम, सुरक्षित सड़कों के साथ स्वास्थ्य, शिक्षा और आधारभूत सरंचनाओं का मजबूती से विस्तार किया जा रहा है। देश में जोधपुर एकमात्र ऐसा जिला है, जहां सभी तरह की विश्वस्तरीय संस्थाएं एक साथ संचालित हैं। जोधपुर में पिछले 4 वर्षों में जनकल्याणकारी विकास कार्य हुए हैं। भविष्य में भी कोई कमी नहीं रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि पानी, बिजली, शिक्षा, कृषि तथा स्वास्थ्य आदि क्षेत्रों में जोधपुर के विकास पर जोधपुरवासियों को गर्व होना चाहिए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों में गुणवत्ता और समयबद्धता सुनिश्चित करने तथा नियमित निगरानी रखने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि किसी भी कार्य में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने नए जिलों की घोषणा पर कहा कि जितने छोटे जिले होंगे, वहां उतना ही अधिक प्रशासनिक एवं विकास कार्य होगा।
पहले के मुकाबले बेहतर हुए विकास कार्य मुख्यमंत्री ने कहा कि जोधपुर में पिछले 4 वर्षों में 59 प्राथमिक विद्यालय, 75 महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय, 8 महाविद्यालय तथा 2 विश्वविद्यालय खोले हैं। साथ ही 163 प्राथमिक विद्यालयों को उच्च प्राथमिक तथा 321 माध्यमिक विद्यालयों को उच्च माध्यमिक में क्रमोन्नत किया है। यहां 32 आयुष हेल्थ वैलनेस सेंटर, 5 ब्लॉक आयुष हॉस्पिटल, 99 सब-सेंटर, 2 उपजिला अस्पताल, 5 जिला अस्पताल व 2 सैटेलाइट अस्पताल खोले हैं। साथ ही कई पीएचसी को सीएचसी में क्रमोन्नत किया है। चिकित्सा शिक्षा में क्षेत्रीय कैंसर संस्थान एवं डेंटल कॉलेज भी खोला गया है। एमबीबीएस की 250 सीटें बढ़ाई गई हैं। इसी तरह सामाजिक सुरक्षा में 1894 करोड़ रुपए व्यय कर जरूरतमंदों को संबल प्रदान किया है। सात औद्योगिक क्षेत्र खोलने के साथ 289 भूखंड आवंटित किए गए हैं। जोधपुर में नया वेद विद्यालय, मारवाड़ मेडिकल विश्वविद्यालय और महात्मा गांधी दिव्यांग विश्वविद्यालय की घोषणा इसी बजट में की गई है।
चिरंजीवी योजना और महंगाई राहत कैंप से राहत
गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में 25 लाख रुपए का निःशुल्क इलाज और राज्य के बाहर भी ऑर्गन ट्रांसप्लांट की सुविधा मुहैया कराई जा रही है। यह योजना प्रदेशवासियों के लिए जीवनदायिनी साबित हुई है। वहीं, महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में 3 लाख से अधिक बच्चों का प्रवेश लेना उज्ज्वल भविष्य की एक सुखद तस्वीर बनता है। साथ ही महंगाई राहत कैंपों में 1.93 करोड़ परिवार रजिस्ट्रेशन कराकर 100 यूनिट निःशुल्क घरेलू बिजली, 2000 यूनिट निःशुल्क कृषि बिजली तथा 10 लाख रुपए का दृर्घटना बीमा सहित अन्य योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगस्त में अन्नपूर्णा फूड पैकेट और महिलाओं को स्मार्टफोन वितरण शुरू हो जाएगा। आमजन ने जताया आभार, मुख्यमंत्री जी ने की घोषणा समारोह में जोधपुरवासियों ने विभिन्न क्षेत्रों में हुए कार्यों और राजस्थान राज्य श्रमण संस्कृति बोर्ड बनाने के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। उन्होंने मुख्यमंत्री जी के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की। मुख्यमंत्री महोदय ने स्थानीय लोगों की मांग पर महामंदिर में बन रही पीएचसी को सीएचसी में क्रमोन्नत करने की भी घोषणा की। साथ ही अन्य कार्यों को भी प्राथमिकता अनुसार कराए जाने के लिए आश्वस्त किया।
समारोह में राजस्थान पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सोलंकी, जोधपुर शहर विधायक श्रीमती मनीषा पंवार, महापौर श्रीमती कुन्ती देवड़ा परिहार, उप महापौर अब्दुल करीम जानी, प्रो. अयूब खान, सलीम खान, नरेश जोशी, संभागीय आयुक्त बी.एल. मेहरा, जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता, नगर निगम आयुक्त उत्सव कौशल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी, जनप्रतिनिधि और 7 स्थानों से जोधपुरवासी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़े।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!