18.2 C
Jodhpur

सुरक्षित विद्यालयी परिवेश देना शिक्षक का दायित्व: मीणा

spot_img

Published:

नारद शेरगढ़। क्षेत्र की चाबा ग्राम के शहीद दमाराम  राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शुक्रवार को ‘गुड टच बैड टच’ संबंधित ब्लॉक स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।  राज्य स्तर से प्रशिक्षण प्राप्त दक्ष प्रशिक्षक दिलीप कुमार मीणा ने बताया कि शिक्षा विभाग की अभिनव पहल  सुरक्षित स्कूल, सुरक्षित राजस्थान के तहत ब्लॉक स्तर के समस्त राजकीय विद्यालयों के गुड टच बैड टच प्रभारियों की ब्लॉक स्तरीय कार्यशाला आयोजित की गई। मीणा ने बताया कि  वर्तमान में अखबारों व खबरों में बच्चों के साथ  होने वाली यौन घटनाओं के बारे में हम पढ़ते हैं साथ ही जब आंकड़ों पर नजर डालते हैं तो यह पाते हैं कि 50 प्रतिशत बच्चे अपने जीवन काल में कभी ना कभी यौन शोषण का शिकार होते हैं जिसमें 53% मामलों में लड़कों के साथ यौन शोषण होता है तथा अपराधी जान पहचान या निकट संबंधियों में से होते हैं। 2017 से 2020 तक बच्चों के विरुद्ध यौन हिंसा में 5%  की बढ़ोतरी हुई है।

साथ ही समाज में हर तरह की विकृत मानसिकता के लोग हो सकते हैं ऐसे में सबसे अच्छा है कि बच्चों को जागरूक किया जाए, क्योंकि अगर बच्चे जागरूक होंगे तो पुलिस और दूसरे लोगों को भी अपना काम करने में आसानी होगी.ऐसी स्थिति में सुरक्षित विद्यालयी परिवेश उपलब्ध करवाना प्रत्येक शिक्षक का दायित्व है। ताकि सुरक्षित विद्यालय सुरक्षित राजस्थान की मशां को  पूरा किया जा सके। विभाग के  निर्देशानुसार 26 अगस्त  को  ब्लॉक के सभी राजकीय विद्यालयों में प्रातः 8 से 12 बजे के मध्य सभी बच्चों को गुड टच बैड टच  संबंधित प्रशिक्षण दिया जाना है ताकि बच्चों  को उनके साथ होने वाले यौन शोषणों के बारे में सजग किया जा सके। गुड टच बैड टच सेशन के लिए किसी तरह के प्रोजेक्टर या डिजिटल इक्विपमेंट की आवश्यकता नहीं है, बल्कि फ्लेक्स के जरिए भी विद्यार्थियों को ‘गुड टच – बेड टच’ का पाठ पढ़ाया जा सकता है साथ ही बच्चों को बुरे स्पर्श से डरने की बजाए मुकाबला करते हुए ‘No, Go और Tell’ फार्मूला काम में लेना चाहिए।

सभी विद्यालयों को प्रशिक्षण की सूचना प्रशिक्षण के पश्चात शाला दर्पण पोर्टल पर तत्काल प्रविष्टि करवाना है। दक्ष प्रशिक्षक अनीता वर्मा व  ममता रानी के द्वारा प्रशिक्षण की आवश्यकता, यौन अपराधों से बच्चों की सुरक्षा कानून 2012 के संबंध में जानकारी साझा की गई।इस दौरान दक्ष प्रशिक्षक दिलीप कुमार मीणा,अनीता वर्मा, ममता रानी, शिक्षक जसवंत सिंह, महिपाल सिंह, सुमेर सिंह, महेंद्र मीणा ,चंचल चौधरी, लख सिंह, सुनीता मेहरा ,लक्ष्मी ,बृजरानी ,प्रमोद कुमार ,राकेश मौर्य, मुनेश कुमारी, रीना, रेणु , रोशनी ,सुखदेव बैरवा उपस्थित रहे।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!