16.9 C
Jodhpur

करोड़ों की लागत से बने नए भवन में 5 साल बाद शुरू हुई पढ़ाई, सदुपयोग की शुरुआत से विद्यार्थी प्रफुल्लित

spot_img

Published:

– निर्माण पूर्ण होने के बाद भी प्रशासनिक स्वीकृति के अभाव में 5 साल तक बच्चों को करना पड़ा इंतजार

नारद भोपालगढ़। ग्राम पंचायत गजसिंहपुरा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का लवारी रोड़ पर स्थित नव निर्मित भवन अपने 5 वर्ष पूर्ण होने के बाद गुरुवार को विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए खुल गया। इससे जहां विद्यार्थी प्रफुल्लित नजर आ रहे हैं, तो वहीं ग्रामीणों ने भी खुशी जताई। इस दौरान पुलिस प्रशासन पूरी तरीके से माकूल जाब्ते के साथ व्यवस्था में नजर आया।

गौरतलब है करीब 6 वर्ष पूर्व बनकर तैयार हुआ नव निर्मित विद्यालय भवन का उद्घाटन करीब 5 साल पहले तत्कालीन राज्यसभा सांसद रामनारायण डुडी, भोपालगढ़ विधायक कमसा मेघवाल व सरपंच सुशिला बेड़ा, पंचायत समिति सदस्य रामकिशोर खदाव सहित जनप्रतिनिधियों के हाथों से हो चुका था, परंतु 5 साल तक प्रशासनिक स्वीकृति के अभाव में इस नवनिर्मित भवन में विद्यालय संचालित नहीं हो रहा था। देखरेख के अभाव में यह भवन जीर्ण-शीर्ण हो रहा था। करोड़ों रूपयों से निर्मित विद्यालय का यह नव निर्मित भवन अनुपयोगी साबित हो रहा था। इसके बाद प्रशासन की ओर से आगे आते हुए जमीन का म्यूटेशन करने के साथ ही जमीन को शिक्षा विभाग को अलॉट की गई। उसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा आदेश निकालकर नए विद्यालय में स्कूल को शिफ्ट करने के निर्देश दिए गए थे। गुरुवार को प्रधानाचार्य सांवरमल कालेर ने विद्यार्थियों के साथ स्कूल में पहुंचकर पढ़ाई का कार्य शुभारंभ किया। इस दौरान किसी भी प्रकार का झगड़ा नहीं हो इसको लेकर आसोप पुलिस भी मौके पर व्यवस्था बनाने के लिए खड़ी रही। पुराने विद्यालय ने कमरों की कमी सबसे बड़ी समस्या थी। अब पर्याप्त मात्रा में कमरों की व्यवस्था है। जिसके कारण विद्यार्थी आराम से पढ़ाई कर सकेंगे। 

इस स्कूल की स्टूडेंट गजसिंहपुरा निवासी पिंकू कंवर कहती हैं कि नया भवन वाकई शानदार है। इसके कमरे काफी बड़े हैं, इसलिए उन्हें बैठकर पढ़ाई करने में भी आसानी होगी। अन्य सुविधाएं भी पुरानी बिल्डिंग की तुलना में ज्यादा है। नए भवन में आकर आनंद महसूस हुआ।

नए भवन में शैक्षणिक व अन्य गतिविधियां सहज होंगी

वर्तमान में संचालित भवन में विद्यार्थी भार अधिक होने से कई प्रकार की परेशानियों से सामना करना पड़ रहा था। इसके बाद 12 सितम्बर को जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक जोधपुर ग्रामीण की ओर से आदेश निकालकर नए भवन में स्कूल संचालित करने के आदेश दिए गए। जिसके बाद गुरुवार को स्कूल शिफ्ट कर विद्यार्थियों की पढ़ाई शुरू करवा दी गई। पढ़ाई के साथ ही खेलकूद की गतिविधियां भी आराम से की जाएगी।

– सांवरमल कालेर,प्रधानाचार्य, राउमावि,गजसिहपुरा

क्या कहते हैं अधिकारी

विभाग के निर्देशानुसार कार्रवाई करते हुए प्रधानाचार्य द्वारा नवीन भवन में विद्यालय शुरू किया गया।

– अल्पूराम टाक, एसीबीईओ, भोपालगढ 

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!