32.4 C
Jodhpur

#SFI एसएफआई का आरोप – प्रदेश में दलित उत्पीड़न के लिए सरकार जिम्मेदार

spot_img

Published:

– हिंडौन में दलित युवती की हत्या पर जताया रोष, प्रदर्शन कर सौंपा राज्यपाल के नाम ज्ञापन

नारद भोपालगढ़। स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया SFI तथा भीम आर्मी ने भोपालगढ़ उपखंड मुख्यालय पर प्रदर्शन कर प्रदेश में दलित उत्पीड़न के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार करार दिया है। एसएफआई के तहसील अध्यक्ष शैलेंद्र तिगाया तथा सामाजिक कार्यकर्ता रामदेव मिस्त्री ने बताया कि हिंडौन में दलित युवती की हत्या का मामला हो या थानागाजी सामूहिक बलात्कार जैसी कई घटनाओं की वजह से राजस्थान दलित अत्याचार के मामलों में प्रथम स्थान पर हो गया है। ऐसी घटनाओं पर रोष जताते हुए दोनों संगठनों ने उपखंड अधिकारी के मार्फत राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

प्रदेश में दलित अत्याचार की घटनाओं पर रोष जताते हुए एसएफआई और भीम आर्मी कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

दलित अत्याचार के बढ़ते मामलों से समाज में खौफ

तहसील अध्यक्ष ने कहा कि हिंडौन कस्बे में दलित समाज की 18 वर्षीय बेटी के साथ गैंगरेप के बाद तेजाब से जलाकर तथा गोली मारकर शव को कुए में डालने का जघन्य अपराध व हदय विदारक घटना है‌। भरतपुर जिले के रूपवास तहसील के गांव नौहरदा में नंगू वाल्मीकि की 13 जुलाई 2023 की रात को सोते समय धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी गई है। कांग्रेस शासन काल के दौरान दलित बहन-बेटियों पर हो रहे व्यभिचार और जघन्य अपराधों के मामलों व करौली की घटना से अनुसूचित जाति समाज के मन में भय व्याप्त हो गया है।

अपराधी बेखौफ, समय रहते अंकुश नहीं लगाया तो…

छात्रसंघ अध्यक्ष दिनेश मेघवाल ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था व राजस्थान सरकार से  आमजन का विश्वास खत्म हो गया है। अपराधी बेखौफ रहे हैं। सरकार ने समय रहते ऐसी घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाया, तो आगामी विधानसभा चुनाव में भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। इस दौरान रामदेव मिस्त्री, खेताराम मेघवाल, छात्रसंघ अध्यक्ष दिनेश मेघवाल, तहसील अध्यक्ष शेलेन्द्र ,भलाराम सेजु, तहसील उपाध्यक्ष पपुराम लोहिया, दिनेश सीमार, प्रकाश जैपाल, दिनेश सीमार, मनीष मेहरा, राकेश, पिंटू, प्रकाश, वीरेन्द्र, कौशिक, नरेश, पिंटू धतरवाल, जीतू धतरवाल सहित संगठन के कई अन्य कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!