25.7 C
Jodhpur

#RLP- पूर्व जिलाध्यक्ष सुमन बेनीवाल का सिर फोड़ 10 घंटे तक पास ही बैठा रहा पति रमेश

- पत्नी पर संदेह के चलते अक्सर हो रहे थे दोनों के झगड़े, आधी रात को विवाद में पत्नी ने हाथ उठाया तो सिर पर दे मारा पत्थर

spot_img

Published:

– रात को ही आरोपी पति रमेश बेनीवाल ने अपने भाई और साले को भी दे दी थी जानकारी

– माता का थान इलाके में किराए के कमरे पर पहुंचे रिश्तेदार, तब दी सुबह 11:30 बजे पुलिस का सूचना

नारद जोधपुर। जोधपुर में आरएलपी महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुमन बेनीवाल (35) और उसके पति के बीच रात करीब 1:30 बजे झगड़ा हुआ, तो पत्नी ने पति पर हाथ उठा दिया। आवेश में आए पति रमेश बेनीवाल ने पास ही पड़ा पत्थर उठाकर सुमन के सिर पर दे मारा तो वो नीचे गिर पड़ी। इसके बाद घबराया पति रात भर उसके पास ही बैठा रहा। इस बारे में उसने अपने भाई और सुमन के भाई गोरधनराम का भी फोन कर घटना के बारे में बताया। सुबह करीब 11:30 बजे जब वे माता का थान स्थित घटना स्थल पर पहुंचे, तब पुलिस को इसकी सूचना मिली।

एडी. डीसीपी नाजिम अली ने बताया कि पति रमेश बेनीवाल पूना में काम करता है और पिछले कुछ दिनों से वो जोधपुर आया हुआ था। उसका अपनी पत्नी सुमन से उसकी गतिविधियों को लेकर विवाद रहता था और दोनों के बीच अक्सर झगड़ा भी होता रहता था। शुक्रवार रात करीब 10 बजे रमेश घर पहुंचा, लेकिन उसकी पत्नी सुमन ने दरवाजा नहीं खोला। काफी मशक्कत के बाद वो किसी तरह घर में घुसा और दोनों के बीच फिर झगड़ा शुरू हो गया। आपसी झगड़े में सुमन ने पति को दो थप्पड़ जड़ दिए, तो गुस्साए रमेश ने एक पत्थर उसके सिर पर दे मारा। जिससे वो निढाल होकर वहीं गिर पड़ी।

पुलिस के पहुंचने पर ही खोला कमरे का दरवाजा

खून देखकर घबराए रमेश को लगा कि वो मर चुकी है, तो उसने अपने भाई और साले को घटना के बारे में बताया। सुबह ओसियां से सुमन का भाई गोरधन भी माता का थान पहुंचा। उनके आने तक वो कमरे में ही पत्नी के शव के पास बैठा रहा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रिश्तेदारों के पहुंचने पर भी रमेश ने दरवाजा नहीं खोला। बाद में पुलिस मौके पर पहुंची, तब कहीं जाकर उसने कमरे का दरवाजा खोला।

गहनता से पूछताछ में असली वजह का खुलासा होने की उम्मीद

एसीपी मंडोर पीयूष कविया ने बताया कि पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि सुमन के बच्चे किसी हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। यहां सुमन के राजनीतिक गतिविधियों में हिस्सा लेने या किसी अन्य कारण से पति उस पर संदेह करता था। संभवतया इसी कारण शुक्रवार देर रात को भी इनके बीच झगड़ा व मारपीट हुई थी। करीब 12 बजे सूचना मिली कि माता का थान मंदिर के पीछे चैनसिंह के घर पर किराए के कमरे में रहने वाली महिला सुमन बेनीवाल की हत्या हो गई है। इस पर थानाधिकारी प्रेमदान की टीम मौके पर पहुंची।

एफएसएल टीम ने जुटाए साक्ष्य

मामले की गंभीरता को देखते हुए डीसीपी पूर्व डॉ. अमृता दुहन, एडीसीपी नाजिम अली सहित अन्य अधिकारी भी वहां पहुंचे। पुलिस ने मौका तस्दीक के साथ ही साक्ष्य संकलित करने के लिए एफएसएल विशेषज्ञों की टीम को भी मौके पर बुलाया। इसके साथ ही आसपास रहने वाले लोगों से पूछताछ में पता चला कि बेनीवाल दंपति करीब डेढ़ साल से यहां पर किराए के कमरे में रह रहे थे।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!