भूख बढ़ाता है करेले का जूस, शुगर और कैंसर के लिए भी है फायदेमंद

114

करेला स्वाद में जितना कड़वा होता है, उसके फायदे उतने ही ज्यादा होते हैं। अधिकांश लोगों को नहीं पता होगा कि करेला सिर्फ सब्जी ही नहीं यह एक फल भी है। अधिकांश फल मीठे होते हैं, लेकिन यह कड़वा फल कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें भारी मात्रा में आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन सी और पोटैशियम पाया जाता है। करेले की जूस पीना स्वास्थ्य के लिए हैरतअंगेज फायदे देने वाला है। इसके कड़वेपन की वजह से अगर आप इसे नहीं पी पीते तो इसमें शहद या फिर गुड़ मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं। या फिर इसे सेब के जूस या नींबू के जूस के साथ भी पी सकते हैं। आज करेले के जूस के सेहत से जुड़े अनेक फायदों के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं, जिनका इस्तेमाल कर आप कई तरह की बीमारियों से मुक्त हो सकते हैं।

शुगर कंट्रोल करने में – शरीर में शुगर को नियंत्रित करने के लिए तीन दिन तक सुबह खाली पेट करेले का जूस पीने से शुगर की समस्या में काफी राहत मिलती है। इसमें मौजूद मोमर्सिडीन और चैराटिन जैसे एंटी-हाइपर ग्लेसेमिक तत्वों के कारण यह ब्लड शुगर लेवल को मांसपेशियों में ठीक तरह से संचालित करने में मदद करता है। इसके बीजों में भी पॉलीपेप्टाइड-पी नाम का तत्व पाया जाता है। यह भी शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है।

भूख बढ़ाने में – अगर आपको भी भूख नहीं लगती या फिर कम लगती है तो करेले का जूस आपकी इस समस्या का इलाज हो सकता है। भूख नहीं लगने की वजह से शरीर को पूरी तरह से पोषण नहीं मिल पाता। जिस वजह से स्वास्थ्य से सम्बंधित कई तरह की परेशानियां जन्म लेती हैं। करेले का जूस रोजाना पीने से पाचन क्रिया सही रहती है तथा भूख बढ़ती है।

कैंसर के उपचार में – करेले में कैंसर ठीक करने वाले तत्व भी पाए जाते हैं। रोजाना एक गिलास करेले का जूस पीने से अग्नाशय में कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाएं नष्ट हो जाती हैं। करेले में मौजूद एंटी- कैंसर कम्पोनेंट्स अग्नाशय का कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं में ग्लूकोस का पाचन रोक देते हैं जिससे इन कोशिकाओं की शक्ति ख़त्म हो जाती है और कैंसर की संभावना भी।

दृष्टि-दोष दूर करने में – करेले का जूस आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। नियमित करेले के जूस का सेवन कर आप दृष्टि दोष दूर कर सकते हैं। करेले में बीटा- कैरोटीन और विटामिन ए की अधिकता होती है जो आंखों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा इसमें उपस्थित विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से होने वाली नजरों की कमजोरी से भी बचाते हैं।