कोरोनाकाल में जो जख्म सरकार ने दिए उसमें 100 करोड़ टीके लगाने का जश्न क्यों-सुरजेवाला

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने 100 करोड़ टीके लगाने के जश्न पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है। सुरजेवाला ने देश में 100 करोड़ टीके का जश्न मनाने को लेकर टिप्पणी की। उन्होंने 100 करोड़ टीकाकरण का जश्न मनाने वाली केंद्र सरकार से पूछा कि अब तक देश की करीब 31 करोड़ आबादी को एक भी टिका नहीं लगा है। वहीं 41 करोड़ आबादी को केवल एक टीका लगा है। ऐसे में अगले 70 दिनों में 106 करोड़ लोगों को टीका लगाना है। इसके लिए केंद्र सरकार के पास क्या प्लानिंग है। उन्होंने 18 वर्ष से कम उम्र के 30 करोड़ बच्चों के टीकाकरण की प्लानिंग को लेकर भी सवाल खड़े किए।
जोधपुर दौरे के दौरान सुरजेवाला ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए विभिन्न मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश के नाम संबोधन किया लेकिन ऐसा लगता है कि उन्होंने देश के वैज्ञानिकों, रिसर्चरों और डॉक्टरों के अपमान करने की कसम खा ली है। इसीलिए वह लगातार यह बयान देते हैं कि देश में आज तक कोई टीका नहीं बना था। मैं उन्हें बता दूं कि 1951 से देश में अलग-अलग बीमारियों के टीके बन रहे हैं और टीकाकरण प्रोग्राम चल रहा है। सुरजेवाला ने देश में बनाए गए टीकों और टीकाकरण कार्यक्रमों की पूरी श्रंृखला गिना दी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के बाद स्कूल व कॉलेज खुल गए है। सबसे अधिक खतरा बच्चों को है। देश के वैज्ञानिकों ने बच्चों के दो तरह के टीके विकसित कर लिए है। लेकिन केन्द्र सरकार अभी तक उन्हें मंजूरी नहीं दे रही है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा के निधन पर शोक व्यक्त आए थे।जोधपुर में दर्ज हुआ था

सुरजेवाला के खिलाफ मामला

बता दे कि कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के खिलाफ करीब ढाई माह पूर्व पुलिस में एक केस दर्ज हुआ था। राजस्थान के चारण समाज ने राम मंदिर के चंदे को लेकर दिए बयान के खिलाफ सुरजेवाला के खिलाफ कुड़ी भगतासनी थाना में केस दर्ज कराया था। समाज ने इसको लेकर कोर्ट में शिकायत की थी। इस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केस दर्ज कर जांच करने के आदेश दिए थे। सुरजेवाला ने 20 जून को ट्वीट कर कह था, ‘अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए करोड़ों देशवासियों ने हजारों करोड़ों का चंदा दिया है, लेकिन रावण के चरणों की निगाहें चंदे पर हैं।Ó कोर्ट में अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि सुरजेवाला ने अपने इस बयान से एक विशेष जाति समुदाय को अपमानित किया है। इस पर कोर्ट ने में कुड़ी थाने में मामला दर्ज कर जांच के निर्देश दिए थे।

NEWS

Related articles

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here