केमिकल से भरा टैंकर पलटा, आग से ग्रामीणों ने ड्राइवर-साथी को बचाया

जोधपुर संभाग के सिरोही जिले में रविवार सुबह केमिकल से भरा टैंकर पलट गया। ऑटो रिक्शा को बचाने के चक्कर में हादसा हुआ। टैंकर में भरा 31 टन मिथाइल सड़क पर बह गया। देखते ही देखते टैंकर के पिछले हिस्से में आग लग गई। धमाके की आवाज सुनकर दौड़कर आए लोगों ने टैंकर में फंसे ड्राइवर व खलासी को बाहर निकला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया।
एक दमकल की मदद से आग पर काबू पाया गया। इसी दौरान टाइल्स से भरा तेज रफ्तार ट्राला घुस आया। वहां खड़े तहसीलदार, एल एंड टी व पुलिस कर्मचारी को देखकर ड्राइवर ने उन्हें बचाने के प्रयास किया। डायवर्जन पर चढ़कर अनियंत्रित होकर ट्रोला पलट गया। जिसका केबिन अलग होकर करीब 200 मीटर दूर सड़क किनारे पहाडिय़ों से टकराकर रूका। गनीमत रही दोनों हादसों में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।
31 टन मिथाइल केमिकल भरकर एक टैंकर कांडला से सितारगंज उत्तराखंड जा रहा था। सुबह करीब 5 बजे पिंडवाड़ा हाईवे पर घाटा तिराहे से जाते समय अचानक टैंकर के सामने ऑटो रिक्शा आ गया। इसे बचाने के चक्कर में ड्राइवर ने टैंकर को आगे निकलना चाहा, लेकिन तभी अनियंत्रित होकर टैंकर सड़क किनारे पलट गया। टैंकर पलटने से उसके पीछे के 2 केबिन क्षतिग्रस्त हो गए तथा उसमें भरा केमिकल सड़क पर बह गया। धमाके की आवाज सुनकर लोग घरों से बाहर निकल आए और आग की लपटों में घिरे टैंकर के केबिन से ड्राइवर सोनाराम जाट और खलासी को बाहर निकाला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तुरंत एम्बुलेंस व दमकल को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने पिंडवाड़ा की ओर से आने वाले वाहनों को दूसरी तरफ डायवर्ट करते हुए दूसरी ओर से निकाला। सूचना पर पहुंची एक दमकल ने करीब 20 मिनट की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

NEWS

Related articles

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here