31.8 C
Jodhpur

बिना चारदीवारी का जीएसएस, करंट से गाय की मौत

spot_img

Published:

  • न स्टाफ रूम ही बनाए, न ही किए सुरक्षा के इंतजाम, क्षेत्रवासियों में आक्रोश

नारद मतोड़ा। सरकार ने लाखो रूपए की लागत से जीएसएस बना तो दिया लेकिन चारदीवारी व स्टाफ रूम बनाना ही भूल गए, बिना चारदीवारी जीएसएस में पशु आ रहे है करंट की चपेट में। उपखंड डिस्कॉम विभाग मतोड़ा के अन्तर्गत ग्राम लाखेटा स्थित 33/11 केवी जीएसएस पांच वर्ष से बिना चारदीवारी संचालित हो रहा है। जीएसएस के चारदीवारी नही होने के कारण मंगलवार सुबह गाय जीएसएस में घुस जाने से करंट की चपेट में आ गई जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर हो ही गई। वही करंट से गाय की मौत के बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने डिस्कॉम के प्रति नाराजगी जाहिर की। जानकारी मिलने पर मतोड़ा कनिष्ठ अभियंता प्रवीण कुमार मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों से वार्ता कर समझाईश की।

गौरतलब हैं की पूर्ववर्ती सरकार द्वारा बिजलीघर स्वीकृत कर आनन-फानन में पोल खड़े कर शुरू कर दिया। लेकिन कार्मिकों को रहने के लिए भवन निर्माण व चारदीवारी के अभाव में जहां कार्मिकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों द्वारा भी कई बार डिस्कॉम अधिकारी व जनप्रतिनिधियों को अवगत करवाया, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया। रमेश विश्नोई ने बताया कि जीएसएस के समीप गौशाला का भी संचालन हो रहा है, चारदीवारी नही होने से कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। मतोड़ा सहायक अभियंता रामस्वरूप पारिक ने कहा की डिस्कॉम के नाम भूमि नही होने के कारण टेंडर प्रकिया नही हो रही है। इस दौरान गौशाला संचालक जगदीश बागड़वा, रामकिशन जाणी, छोगाराम बागड़वा, हेतराम, केलाश  आदि मौजूद थें।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!