32.4 C
Jodhpur

धर्म बहन ने दिया धोखा, धमकी मिली तो बेटे को पढ़ाई छुड़वा रिश्तेदार के यहां छुपाया

spot_img

Published:

उदयमंदिर थाने में आया एक ऐसा मामला : पड़ोसियों से पहले बेहतर संबंध थे, जमीनों का काम साथ किया, अब एक-दूसरे के दुश्मन बने
जोधपुर। चौपासनी हाउसिंग बोर्ड निवासी एक व्यक्ति ने शहर के उदय मंदिर थाने में एक ऐसा मुकदमा FIR दर्ज करवाया है, जिसमें पहले पहचान, फिर दोस्ती और पारिवारिक संबंध बनने के बाद दुश्मनी की नौबत आ गई। पीड़ित के अनुसार जिसे उसने धर्म बहन बनाया, उसने पति व ससुराल पक्ष के लोगों के साथ मिलकर उसे ही धोखा दिया। जान से मारने की धमकी मिली तो बेटे को पढ़ाई छुड़वाकर रिश्तेदार के यहां छुपाना पड़ा। अब पीड़ित ने पुलिस से गुहार की है कि उसे धोखाधड़ी से बचाया जाए, परिवार की जान बचाई जाए।
चौपासनी हाउसिंग बोर्ड निवासी कल्पेश बुच ने गरिमा बोहरा व मुकुल बोहरा सहित अन्य लोगों के खिलाफ दर्ज करवाए मुकदमें में बताया कि उसकी एक दुकान एवं कार्यालय OFFICE मंगलम टाईपराईटिंग एवं प्रोपर्टी के नाम से मकान नं 6-क-2, कोठारी अस्पताल HOSPITAL के पास गली में है। प्रार्थी की दुकान के सामने स्थित मकान नं 6-क-8 व 6-क-9 में रहने वाले बैंककर्मी अमित बोहरा, BSNL से सेवानिवृत प्रेमकिशोर, बोहरा, मुकुल बोहरा एंव होम्योपेथी डॉक्टर गरिमा वोहरा, जाति श्रीमाली, ब्राहम्ण का परिवार निवास करता है।03. यह है कि अमित बोहरा, गरिमा बोहरा, प्रेमकिशोर बोहरा, मुकुल बोहरा के लिए प्रतिदिन प्रार्थी की दुकान पर आते जाते रहने के कारण प्रार्थी की बोहरा परिवार से अच्छी जान पहचान हो गई थी एवं गरिमा बोहरा द्वारा प्रार्थी को धर्म भाई बनाने के कारण पारिवारिक संबंध स्थापित हो चुके थे, जिससे इस बोहरा परिवार का मेरी दुकान पर आना जाना लगा रहता था।
मैं इन अभियुक्तगणों के साथ प्रोपर्टी का व्यवसाय भी करने लगा। मेरे हस्ताक्षरयुक्ता आवश्यक दस्तावेज आफिस में पड़े रहते थे, जिनकी जानकारी अभियुक्तगणों को थी इसलिये उपरोक्त अभियुक्तगणों ने कुटरचित दस्तावेजों पर मेरे नाम से जाली हस्ताक्षरों व अंगुष्ठ निशान के माध्यम से कई व्यक्तियों के साथ भी लगातार घोखाधड़ी करने लगे, जिसकी जानकारी मुझे अभी हाल ही में प्रथम सूचना रिपोर्ट संख्या 363/2018 के संबंध में पुलिस थाना उदयमन्दिर, जोधपुर अनुसंधान अधिकारी के पास थाने गया, तब पता चला। कई विक्रय विलेखों फर्जी एवं कुटरचित मेरे नाम से हस्ताक्षर एवं अंगुष्ठ निशान कर साखे डाली गई है। आरोपियों की ओर से मुझ प्रार्थी की दुकान से पूर्व नियोजित पडयन्त्र के तहत दुर्भावना एवं ब्लैकमेलिंग हेतु चुराये गये उक्त दस्तावेजों का दुरूपयोग कर मुझ प्रार्थी को बर्बाद करने की धमकीया दी जा रही हैं एवं मुझ प्रार्थी द्वारा उदयमन्दिर थाना में प्रथम सूचना रिपोर्ट संख्या 363/18 जाचं अधिकारी उपनिरीक्षक श्रीमान् सोहन जी में दी गई गवाही से पलटने के लिये मुझ प्रार्थी एवं मेरे पुत्र को अपहरण एंव जान से मारने की धमकीया भी दी जा रही है। इस डर से मुझ प्रार्थी द्वारा मेरे पुत्र को पढ़ाई छुड़ा कर राज्य से बाहर अपने किसी रिश्तेदार के पास छुपा रखा है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!