20.5 C
Jodhpur

बालिकाओं का शिक्षा के क्षेत्र में नाम बालकों के लिए चुनौती है, इसे स्वीकारें, पोजिशन पर खतरा आने वाला है: डॉ. मेहरड़ा

spot_img

Published:

– डीजी (SCRB & CYBER CRIME) डॉ. रवि प्रकाश मेहरड़ा के मुख्य आतिथ्य में कापरड़ा स्थित राजकीय स्कूल में प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित

नारद पीपाड़ सिटी। डॉ. बीआर अंबेडकर चेतना संस्थान जोधपुर की ओर से राउमावि कापरड़ा में जिला स्तरीय सर्व जातिय प्रतिभावान सम्मान समारोह रवि प्रकाश मेहरङा पुलिस महानिदेशक साइबर क्राइम, एससीआरबी, टेलीकम्युनिकेशन एवं टेक्निकल के मुख्य आतिथ्य ओर पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र सिंह यादव की अध्यक्षता में समारोह पुर्वक संपन्न हुआ। तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नवाब खान डिप्टी राजवीरसिंह चंपावत, धनाराम खुडियाला, ठेकेदार कालुराम सोनेल, डॉ यशपाल गोधा, डॉ प्रदुम्न सिंह, गोपालसिंह रूदिया, गोपालसिंह होल्पुर, गोपीलाल बोचावत, घनश्याम मेघवाल, सरपंच अब्दुल अजीज विशिष्ट अतिथि के रूप में भाग लिया। कार्यक्रम में 400 प्रतिभाएं 20 समाजसेवी, 3 समाज सेवी , 1 कला सहित 424 प्रतिभाएं सम्मानित हुई।

पुलिस महानिदेशक डॉ मेहरङा ने कहा कि शिक्षा से ही समाज और देश का विकास संभव है। बालिकाओं को शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार दें। बालिका शिक्षा पर जोर दें। आज हर क्षेत्र में बालिकाएं आगे है। वह दिन दुर नहीं बालकों से ज्यादा बालिकाओं का नाम होगा। यह बालकों के लिए चुनौती है वे स्वीकार करें।आपकी पोजिशन पर खतरा आने वाला है। ज्यादा अंक या प्रतिशत लाना बङी बात नहीं है। 12 कक्षा जीवन निर्धारित करती है। अपने कंधों पर जिम्मेदारी का एहसास होना चाहिए। कंधे हर संभव दबने नहीं चाहिए। आजकल सोशल मीडिया ओर इंटरनेट के कारण बच्चे इतने मानसिक दबाव में होते हैं। कभी तनाव ओर चिंता नहीं करनी चाहिए। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण धर्मेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि अभी अच्छे काम कर करने वालों का समाज और हर जगह सम्मान होता है आप नशे ओर अपराधिक प्रवृति को त्यागें। ओर अच्छे काम करें और पुलिस का सहयोग करें। नशे से दुर होकर शिक्षा से पर जोर दे तो समाज का विकास संभव है।

मंच संचालन अशोक कङेला ने किया। इस दौरान भंवरसिंह चंपावत, जिलाध्यक्ष नथमल खीची, हाजी गफार खान, हाजी गफार खां, जानु खां, शेरु, ब्लॉक अध्यक्ष श्यामलाल खीची, बुधाराम कङवासरा , गफार खां, ताजुद्दीन मेहर, गणपतराम शंखवाया, सुनील विश्नोई, सिकंदर बागङी, मनमोहन लीलङ, गणपतराम शंखवाया, सेठाराम थिरोदा, महेंद्र खीची, पत्रकार, भुंडाराम थिरोदा, गोपीकिशन रावल, एडवोकेट जगदीश चौहान, शांति चौहान, ओमप्रकाश बौद्ध, लीला गांधी, रमेश देवासी, लक्ष्मणदास बाघराना, महावीर सिंह, गोवर्धनसिंह करीना खीची उपस्थित थे।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!