34.8 C
Jodhpur

देव झूलनी एकादशी: पवित्र सरोवर में कराया ठाकुरजी को स्नान

spot_img

Published:

– ठाकुरजी मंदिर व सांवरिया गिरधारी मंदिर से निकाली रेवाड़ी शोभायात्रा

नारद लूणी। कस्बे में हर साल की तरह इसबार भी ठाकुरजी मंदिर व सांवरिया गिरधारी मंदिर से रेवाडिय़ां निकाल कर ठाकुरजी को सरोवर में नहलाया गया। इस दौरान हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने शिरकत की।

सदियों से चली आ रही परंपरा के अनुसार इसबार भी कृष्ण जन्माष्टमी पर ठाकुरजी का जन्म होने के बाद से ही सूतक माना जाता हैं। सूतक मिटाने के लिए साल में एकबार ठाकुरजी को सरोवर में नहलाने के लिए रेवाडिय़ां में विराजमान कर रद्धालु व पुजारी शोभायात्रा के साथ जाते तथा शोभायात्रा के रूप में पुन: मंदिरों तक आकर मंदिरों में विराजमान कराया जाता हैं। इसबार भी कस्बे के सबसे पुराने मंदिर ठाकुरजी मंदिर व रावळा चौक के पास स्थित सांवरिया गिरधारी मंदिर से ठाकुरजी की रेवाडिय़ा के साथ शोभायात्रा एक साथ निकाली गई। जो कस्बे के कई मार्गों से होते तालाब पर पहुंची जहां पर ठाकुरजी को पुजारियों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चर के साथ नहलाया गया एव पहली आरती तालाब पर ही की गई। इस दौरान रेवाडिय़ां में विरामान ठाकुरजी का श्रद्धालुओं ने दर्शन कर पौशाकें, मौसमी फल एवं अन्य वस्तुओं के साथ का दान किया गया।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!