दिनदहाड़े सास-बहू व पौत्र से चेन व पर्स लूटने का खुलासा, शातिर लुटेरा गिरफ्तार

गत मंगलवार को शास्त्रीनगर पुलिस थाना के सामने ट्रैफिक पॉइंट के पास दिनदहाड़े सास-बहू व पौत्र से चेन व पर्स लूट का देवनगर पुलिस ने खुलासा करते हुए एक शातिर लुटेरे को पकड़ा है। साथ ही उससे चोरी की बाइक व लूटा गया मोबाइल बरामद किया है। उसके खिलाफ पहले से अलग-अलग पुलिस थानों में आठ मामले दर्ज है। उसे पकडऩे के लिए पुलिस टीम ने करीब 200 किमी की परीधि में 200 सीसी टीवी कैमरों के फुटेज खंगाले तब वह पुलिस के हाथ आया। पूछताछ मेंं पता चला है कि पैसे की तंगी, जुए और नशे की लत पूरी करने के लिए वह लूट करता है। उससे लूट की अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जा रही है।
एसीपी प्रतापनगर नीरज शर्मा ने बताया कि गत मंगलवार को चौपासनी हाउसिंग बोर्ड में सेक्टर 2 छ निवासी उषा (65) पत्नी गोरधन पटवा अपनी पुत्रवधू दीपिका (35) पत्नी कपिल पटवा और पौत्र पार्थ (11) के साथ अपराह्न चार बजे खरीदारी करने के लिए मोपेड पर घर से निकली। दीपिका मोपेड चला रही थी। शास्त्रीनगर थाने के सामने ट्रैफिक सिग्नल लाइट से कुछ पहले पहुंची तो मोटरसाइकिल सवार एक युवक पास आया। उसने मोपेड के पीछे बैठी उषा के गले में सोने की चेन पर झपट्टा मारा। इससे उसने मोपेड से नियंत्रण खो दिया। तीनों मोपेड से सड़क पर गिर गए। लुटेरे ने उषा के गले से सोने की चेन व हाथ में पकड़ा पर्स लूट लिया और मौके से फरार हो गया। पर्स में बीस हजार रुपए, कुछ अन्य दस्तावेज थे। इधर सड़क पर रगडऩे से तीनों घायल हो गए थे। बाद में तीनों को मथुरादास माथुर अस्पताल ले जाया गया।
इस घटना के बाद पुलिस आयुक्त जोस मोहन के आदेशानुसार और पुलिस उपायुक्त पश्चिम आलोक श्रीवास्तव के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त हरफूलसिंह मार्गदर्शन में एसीपी नीरज शर्मा के निकट सुपरविजन में एक टीम गठित की गई। टीम में देवनगर थानाधिकारी जयकिशन सोनी, प्रतापनगर थानाधिकारी सोमकरण व राजीव गांधी नगर थानाधिकारी मूलसिंह और अन्य पुलिस कर्मियों व अभय कमाण्ड कन्ट्रोल के अथक प्रयास से लुटेरे मण्डलनाथ फांटा दईजर निवासी मनीष उर्फ अर्जुन माली को गिरफ्तार कर लूटा गया मोबाइल व लूट में प्रयुक्त मोटर साइकिल अपाचे बरामद की गई। यह मोटर साइकिल चोरी की है जो उसने उसी दिन महामंदिर थाना क्षेत्र से चुराई थी। उसे पकडऩे के लिए टीम ने 48 घंटों तक शहर की लगभग 200 किमी की परीधि में 200 सीसी टीवी कैमरों का लगातार अवलोकन व विश्लेषण किया। इसके बाद आरोपी पकड़ में आया।

NEWS

Related articles

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here