एम्स का वार्ड बॉय हुआ हनी ट्रैप का शिकार , पुलिस को देख भागे तस्कर

70 लाख रुपए मांगेंए दो महिलाओं सहित छह गिरफ्तार
जोधपुर। जोधपुर एम्स काएक वार्ड बॉय हनी ट्रैप का शिकार हो गया। आरोपियों ने करीब सत्तर लाख रुपए की मांग की। पुलिस ने मामले में दो महिलाओं सहित चार व्यक्तियों गिरफ्तार किया है।
एसीपी राजेंद्र प्रसाद दिवाकर ने बताया मूलतरू बाड़मेर के धोरीमन्ना हाल एम्स अस्पताल में वार्ड बॉय की नौकरी करने वाले एक युवक के पिता की तरफ से रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि उसका पुत्र एम्स में नौकरी करता है। गत ती अक्टूबर को उसके गांव धोरीमन्ना के ही रहने वाले पाबूराम को उसके पुत्र को फोन कर बुलाया और फिर सारण नगर बनाड़ स्थित एक मकान पर लेकर गया। पाबूराम उसके पुत्र को वहीं कमरें पर छोड़ कर वापिस आने का बोल गया। फिर उसके कमरें पर दो युवक और एक युवती आई। इन लोगों ने पहले उसके पुत्र के साथ मारपीट की और फिर एससीएसटी एक्ट केस में फंसाने और फोटो के बल पर धमकाने का प्रयास किया।
बाद में पाबूराम ने अपने शातिर दोस्त पवन के जरिए पीडि़त के पिता के भांजे को फोन किया। पवन ने फोन कर कहा कि बंधक बनाया गए युवक ने उसकी बहन से छेड़छाड़ की है और पुत्र को छुड़ाने के एवज में 70 लाख रुपए मांगे। पीडि़त के पिता को भांजे से आए फोन पर वह जोधपुर पहुंचा और बनाड़ पुलिस को सूचना दी गई। घटना को लेकर हरकत में आई पुलिस ने सारण नगर स्थित पाबूराम के कमरें पर रेड दी। जहां से एम्स वार्ड बॉय युवक को मुक्त करवाने के साथ वहां से युवती व महिला सहित चार जनोंको हिरासत में ले लिया गया।

सहारा ग्रुप के खिलाफ एक और एफआईआर – सहारा ग्रुप के खिलाफ पुलिस में धोखाधड़ी की एक और एफआईआर दर्ज हुई है। इस बार नागौरी गेट पुलिस थाना में मामला दर्ज हुआ है। इससे पहले प्रतापनगर थाना में सहारा ग्रुप के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। नागौरी गेट पुलिस ने बताया कि न्यू जाटावास मदेरणा कॉलोनी निवासी आमीन पुत्र उमर खान की तरफ से यह रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि वर्ष 2019 में उसने मंडोर कृषि मंडी स्थित सहारा इंडिया में 13 माह तक 3. 3 हजार की किश्तें जमा करवाई थी। इस समूह की अनोखी स्कीम में यह रक म जमा करवाई। मगर बाद में वह किश्तों को भरने के लिए अक्षम था। तब उसने एजेंट नागौरी गेट के मोहम्मद असलम को किश्तों की भरपाई के लिए मना कर दिया और रूपयों को लौटाने की बात की। वह कार्यालय में पीसी कुमावत से मिला तो पता लगा कि 36 माह पूर्ण होने पर किश्तों की मैच्यूरिटी पर ही रकम ब्याज सहित मिलेगी। मगर आज दिनांक तक उसे रकम नहीं मिली। मैच्यूरिटी अवधि फरवरी 21 में पूरी हो गई। पुलिस ने बताया कि घटना में अब सहारा प्रमुख सुब्रतो रॉयए पीसी कुमावत और एजेंट मोहम्मद असलम के खिलाफ धोखाधड़ी में केस दर्ज किया है।

बाइक सवार बदमाशों ने लूटी महिला के पहनी सोने की चेन – पावटा सी रोड़ क्षेत्र में पैदल जा रही एक महिला के गले में पहनी सोने की चेन बाइक सवार लुटेरे छीनकर ले भागे।महामंदिर थाने में दी रिपोर्ट में हनवंत ए बीजेएस कालोनी निवासी रीना अग्रवाल पत्नी नवीन कुमार अग्रवाल ने पुलिस को बताया कि वह पां अक्टूबर की शाम के समय वह पावटा सी रोड़ पर पैदल जा रही थी। इसी दौरान कैसरी ज्वैलर्स के पास बाइक पर सवार होकर आए बदमाशों ने अचानक उसके पास बाइक रोकी और झपटा मारकर उसके गले में पहनी सोने की चेन तोड़कर ले भागे। वह चिल्लाई लेकिन तब तक आरोपी भाग छूटे। पुलिस ने लूट का मामला दर्ज कर आसपास लगे सीसी टीवी कैमरों के फुटेज से बदमाशों की तलाश आरंभ की है।

किराणे की दुकान में चोरी – दुकान का दरवाजा तोड़कर किराणा का सामान और गल्ले में रखी नगदी चोरी का मुकदमा दुकानदार ने मतोड़ा थाने में दर्ज कराया। नोसर निवासी राधेश्याम सोनी ने पुलिस को बताया कि गांव में ही स्थित उसकी किराणे की दुकान के पीछे का दरवाजे के ताला तोड़कर अज्ञात व्यक्ति वहां से हजारों रुपए का किराणा का सामान और गल्ले में रखी पांच हजार रुपए की नकदी चुरा ले गया।
इसी प्रकार बालेसर थाने में दी रिपोर्ट में बालेसर सता निवासी दुर्गाराम माली ने पुलिस को बताया कि रात्रि के समय अज्ञात व्यक्ति खनन क्षेत्र में खड़े उसके टैक्टरों और क्रेनो में लगी बैटरियों को खोलकर चुरा ले गया।

पुलिस ने की बस जब्त, चालक चुरा ले गया – दस दिन पूर्व यातायात पुलिस की ओर से मोटर व्हीकल एक्ट में जब्त की गई बस चोरी कर ले जाने का मुकदमा बासनी थाने में दर्ज कराया। बासनी थाने में दी रिपोर्ट में रिपोर्ट में यातायात पुलिस शाखा में तैनात रामनारायण मीणा ने बताया कि उसने गत 27 सितंबर को अमृता देवी चौराहे के पास ड्यूटी करते समय लक्ष्मी ट्रैवल्र्स की बस नम्बर आरजे 19 पीबी 800 को मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 207 में कागजात के अभाव में जब्त किया था। उक्त बस को चालक देचू थानान्तर्गत पीलवा निवासी दिलीप सिंह मौके से चुरा ले गया। घटना के करीब दस दिन बाद मिली रिपोर्ट पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।

पुलिस को देख शराब से भरे कट्टे फेंककर भागे तस्कर – अवैध रूप से शराब का परिवहन कर रहे दो तस्कर पुलिस की गाड़ी को देखकर शराब से भरा कट्टा फैंककर भाग छूटे। पुलिस ने नामजद आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच और तलाश शुरू की। मथानिया थाने के एसआई राजूराम ने बताया कि वह गश्त कर रहे थे इसी दौरान बासनी भाटियान क्षेत्र में एक गाड़ी पर दो युवक अवैध शराब लेकर जाते दिखे। पुलिस ने पीछा किया तो आरोपियों ने शराब के पव्वे से भरा कट्टे को फैंककर मौके से भाग छूटे। इस दौरान एक तस्कर केरू निवासी अशोक विश्नोई की पहचान भी हुई। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मौके से भागे तस्करों की तलाश शुरू की।

NEWS

Related articles

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here