46.1 C
Jodhpur

CBI मुख्यालय में सिसोदिया से पूछताछ जारी, केजरीवाल बोले- जेल जाना किसी के लिए ‘गर्व’ की बात

spot_img

Published:

दिल्ली शराब नीति घोटाले के सिलसिले में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी की आशंकाओं के बीच, सीबीआई मुख्यालय में उनसे पूछताछ जारी है. मुख्यालय के बाहर समर्थकों की भारी भीड़ जुटी है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश और समाज के लिए जेल जाना किसी के लिए “गर्व” की बात है.

केजरीवाल ने शनिवार को ट्वीट किया, “भगवान आपके साथ है मनीष. लाखों बच्चों और उनके माता-पिता का आशीर्वाद आपके साथ है. जब आप देश और समाज के लिए जेल जाते हैं, तो जेल जाना अभिशाप नहीं, गौरव है. मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि आप जल्द जेल से लौटें.”

दिल्ली सरकार के मंत्री सिसोदिया के पास वित्त विभाग भी है. उन्हें मूल रूप से पिछले रविवार को तलब किया गया था, लेकिन बजट संबंधी तैयारियों का हवाला देते हुए उन्होंने पूछताछ टालने का अनुरोध किया था. इसके बाद सीबीआई ने उनसे 26 फरवरी को पेश होने को कहा था.

सिसोदिया ने सीबीआई दफ्तर जाने से पहले ट्वीट कर कहा कि कुछ महीने जेल में रहना पड़े परवाह नहीं है.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘आज फिर CBI जा रहा हूं, सारी जांच में पूरा सहयोग करूंगा. लाखों बच्चो का प्यार व करोड़ों देशवासियों का आशीर्वाद साथ है कुछ महीने जेल में भी रहना पड़े तो परवाह नहीं. भगत सिंह के अनुयायी हैं, देश के लिए भगत सिंह फांसी पर चढ़ गए थे. ऐसे झूठे आरोपों की वजह से जेल जाना तो छोटी सी चीज़ है.’’

सिसोदिया ने आरोप लगाया, ‘‘वे (केंद्र) बदला लेने के लिए सीबीआई का इस्तेमाल कर रहे हैं और मुझे यकीन है कि वे मुझे गिरफ्तार करवाकर ऐसा करेंगे.’’

अपने समर्थकों के जोरदार नारों के बीच सिसोदिया पूछताछ से कुछ देर पहले अपने आवास से राजघाट गए थे.

इस बीच, बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने मनीष सिसोदिया पर तंज कस्ते हुए कहा, भ्रष्टाचार को इवेंट मैनेजमेंट में बदलने से उन्हें भ्रष्टाचार छिपाने में मदद नहीं मिलेगी. शराब नीति घोटाले पर आप ने कोई जवाब नहीं दिया. एक बात तो साफ है कि ये सच को छिपाने में लगे हैं. उन्हें सीबीआई को जवाब देना चाहिए. इवेंट मैनेजमेंट की ज़रूरत नहीं है.

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता सिसोदिया से इससे पहले पिछले साल 17 अक्टूबर को पूछताछ की गई थी, जिसके एक महीने पहले जांच एजेंसी ने सात लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था.

सीबीआई सिसोदिया से आबकारी नीति के विभिन्न पहलुओं, शराब कारोबारियों के साथ उनके कथित संबंधों और गवाहों के बयानों में किये गये दावों के बारे में पूछताछ करेगी.

अधिकारियों ने बताया कि सिसोदिया के करीबी सहयोगी दिनेश अरोड़ा के इकबालिया बयानों और ‘साउथ लॉबी’ के कथित सदस्यों से पूछताछ से हासिल हुई सूचना के आधार पर सीबीआई ने आप नेता के लिए एक विस्तृत प्रश्नावली तैयार की है.

‘साउथ लॉबी’ राजनेताओं और शराब कारोबारियों की एक मंडली है, जिन्होंने आबकारी नीति कथित तौर पर अपने पक्ष में कर ली थी.

यह आरोप है कि शराब कारोबारियों को लाइसेंस प्रदान करने की दिल्ली सरकार की नीति कुछ खास ‘डीलर’ के पक्ष में थी, जिन्होंने कथित तौर पर इसके लिए रिश्वत दी थी. हालांकि, आप ने इन आरोपों को खंडन किया है.

आप विधायक आतिशी ने शनिवार को पत्रकारों से कहा, ‘‘मनीष सिसोदिया सीबीआई जांच के लिए जाएंगे और उनका पूरा सहयोग करेंगे. पिछले आठ से 10 साल में आम आदमी पार्टी के नेताओं के खिलाफ लगभग 150 से 200 मामले दर्ज किए गए हैं. लेकिन वे (केंद्र) हमारे नेताओं के खिलाफ एक पैसा का भी भ्रष्टाचार साबित नहीं कर पाए हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि आप एक कट्टर ईमानदार पार्टी है.’’


[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!