दस गाडिय़ों भरकर आए तीन दर्जन से अधिक बदमाशों ने की तोडफ़ोड़, हथियार की नोंक पर नाकाबंदी तोड़कर हुए फरार

जोधपुर। संभाग के बाड़मेर जिले में कल्याणपुर थानान्तर्गत डोली टोल नाके पर बुधवार को दिनदहाड़े फायरिंग हो गई। यहां करीब दस बिना नम्बरी गाडिय़ों में भरकर आए तीन दर्जन से अधिक बदमाशों ने हवाई फायर कर तोडफ़ोड़ की। कर्मचारियों के साथ मारपीट कर नकदी लेकर फरार हो गए। दिनदहाड़े हुई इस घटना से क्षेत्र में दहशत फैल गई। सूचना पर पुलिस ने नाकाबंदी की लेकिन हाथियारों की नोंक पर वे नाकाबंदी तोड़ फरारा हो गए। बदमाशों को पकडऩे के लिए जोधपुर तक नाकाबंदी करवाई गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जोधपुर की ओर से बिना नम्बर की गाडिय़ां लेकर गलत साइड से डोली टोल प्लाजा के कार्यालय में पहुंचे करीब तीन दर्जन बदमाशों ने हवाई फायर कर कार्यालय के शीशों पर लाठियों से वार करना शुरू किया। सीसीटीवी कैमरे, फर्नीचर तोडऩे के बाद चार आने और चार जाने के बूथ में तोडफ़ोड़ कर कर्मचारियों को लाठियों से पीटा और नकदी चुरा कर फरार हो गए। कर्मचारियों ने पास के खेतों में भागकर अपनी जान बचाई। सूचना पर कल्याणपुर थानाधिकारी भंवरसिंह पोकरणा मय जाब्ता मौके पर पंहुचकर धवा चौकी, झंवर, बोरानाडा, लूणी थानों में नाकाबन्दी करवाई। धवा चौकी में बदमाश हथियार की नोंक पर भागने में कामयाब हो गए।

घटना के बाद यहां कार्यरत अधिकांश कर्मचारी अपना जरूरी सामान व बैग वगैराह छोड़ कर घर चले गए। गौरतलब है कि यहां करीब चालीस कर्मचारी कार्यरत है जिन्होंने जैसे ही फायरिंग की आवाज सुनी, वे जान बचाने के लिए वहां से भाग खड़े हुए। कोई खेतों में भाग गया तो कोई आसपास के क्षेत्र में छिप गया। जानकारी के अनुसार मारपीट की घटना में चार-पांच जने घायल हुए, लेकिन वे इलाज के लिए अस्पताल नहीं पहुंचे। घटना के बाद कर्मचारियों ने टोल नाका खाली कर दिया। इसके चलते यहां टोल टैक्स लेने वाला कोई नहीं है। ऐसे में नाका टोल फ्री हो गया।

 नाकाबंदी में पकड़े 55 लाख रुपए,दो लोग हिरासत में

जोधपुर-बाड़मेर रोड पर बुधवार शाम को डोली टोल नाके पर हुई फायरिंग की घटना के बाद अपराधियों के जोधपुर की तरफ भागने की सूचना पर की गई नाकाबंदी में करवड़ पुलिस ने करीब 55 लाख की नगदी बरामद की है। बिना नंबरी इनोवा को जब्त करने के साथ नगदी को सीआरपीसी की धारा 102 में जब्त किया गया है। आगे की कार्रवाई आयकर विभाग की तरफ से की जाएगी।

Also Read: सलमान खान को मिली राहत कोर्ट को गुमराह करने की शिकायत का प्रार्थना पत्र खारिज

एसीपी भोपालसिंह लखावत ने बताया कि बुधवार शाम को जोधपुर-बाड़मेर रोड पर बाड़मेर जिले के डोली टोल नाके में हुई फायरिंग की घटना के बाद जोधपुर पुलिस कमिनरेट की तरफ से जिले भर में नाकाबंदी करवाई गई। इस बीच करवड़ पुलिस की तरफ से की गई नाकाबंदी में एक इनोवा को नागौर की तरफ से आते देख रूकने का इशारा किया लेकिन इनोवा का चालक गाड़ी को पीछे की तरफ मोड़कर भगा ले गया। इस पर करवड़ थानाधिकारी लीलाराम मय जाब्ते ने गाड़ी का पीछा कर उसे पकड़ लिया।

बताया गया कि गाड़ी में दो लोग सवार थे। दोनों जोधपुर के रहने वाले है। इनमें एक चंपालाल व दूसरा रामप्रसाद है। गाड़ी की तलाशी लिए जाने पर उसमें नकदी मिली। गाड़ी से करीबन 54 लाख 40 हजार की नकदी जब्त की गई। दोनों लोगों से पूछताछ में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर सीआरपीसी की धारा 102 में जब्त किए गए। पूछताछ में इन लोगों ने बताया कि यह रुपए सालासर की तरफ से लेकर आए है, जो मंडी के किसी व्यापारी को देने है। पुलिस ने बताया कि रुपए के बारे में आईटी विभाग को सूचित कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। सनद रहे कि पिछले सप्ताह भी डांगियावास पुलिस ने एक कार से 21 लाख रुपए जब्त किए थे। इससे पूर्व नोटबंदी में भी डांगियावास पुलिस ने 35 लाख की नकदी जब्त की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here