33.7 C
Jodhpur

आदर्श विद्या मंदिर में मातृ सम्मेलन का हुआ आयोजन

spot_img

Published:

– सम्मेलन में रही महिलाओं की उत्साहजनक भागीदारी

नारद बोरुंदा। विद्या भारती विद्यालय आदर्श विद्या मंदिर बोरुंदा में मातृ सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल हुई। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर सरस्वती वंदना के साथ प्रारंभ हुआ। प्रधानाचार्य प्रताप सिंह ने विद्यालय का व्रत्त प्रस्तुत किया ।मुख्य वक्ता विद्या भारती के प्रांत निरीक्षक गंगा विष्णु जी ने बताया की नारी में अपारशक्ति है। आए दिन हमें नारी सशक्तिकरण के उदाहरण देखने को मिलते है । नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार बालकों को खेल खेल में शिक्षा देना, बालकों पर अनावश्यक दबाव डालने से उनके मस्तिष्क पर बुरा असर पड़ता है। बच्चों की प्रथम गुरु मां होती है मां बालकों को अच्छे संस्कार देकर उन्हें चरित्रवान बनाने में भूमिका निभाती है। मोबाइल के दुष्परिणाम उसे भी बच्चों को समय-समय पर अवगत कराना मां की भी जिम्मेदारी है। अच्छे संस्कार से ही बच्चों की दिशा तय होती है और वह चरित्रवान नागरिक बनते है। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि मीनाक्षी जांगिड़ व्याख्याता ने माताओं को संबोधित करते हुए बताया कि जहां नारियों की पूजा होती है वहां देवता निवास करते हैं। बच्चों को घर पर नियमित अध्ययन के लिए प्रेरित करना मां की जिम्मेदारी होती है। कार्यक्रम के समापन मे प्रधानाचार्य ने सभी का आभार व्यक्त किया।

#Borunda #Mother’s conference organized in Adarsh Vidya Mandir

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!