18.2 C
Jodhpur

आई फ्लू बीमारी के प्रति रहें सजग, बरतें सावधानी: छैलाराम

spot_img

Published:

आयुष विभाग की टीम भोपालगढ़ के मैलाणा पहुंची, आमजन को कर रही जागरूक

नारद भोपालगढ़। आयुष विभाग द्वारा सर्टिफिकेट आयुर्वेद टीम कोऑर्डिनेटर जानकार छैलाराम मेघवाल मैलाणा ने बताया कि इन दिनों मौसम में परिवर्तन व बढ़ते संक्रमण के कारण लोगों में नेत्र / आंखो से संबंधित आई फ्लू ( EYE FLU ) बीमारी की शिकायत देखने को मिल रही हैं, मेघवाल ने कहा है कि यह एक प्रकार का वायरल संक्रमण है, तथा इसे संक्रामक रोग के तौर पर भी देखा जाता है, इस रोग से पीड़ित होने पर रोगी को आंखों में जलन के साथ-साथ बुखार भी देखने को मिल सकता है, रोगी को आंखों में दर्द, सूजन, लालिमा, हल्की खुजली, आंखों से पानी व रक्तस्राव, आंखें खोलने में परेशानी इत्यादि प्रकार की समस्याएं महसूस होती है।

आयुर्वेद के जानकार छैलाराम मेघवाल ने बचाव उपायों को लेकर बताया कि सर्वप्रथम हमें सफाई- स्वच्छता का पूरी तरह से ध्यान रखना है। आंखों को गुलाब जल, हल्के गर्म या ठंडा पानी इनमें से किसी एक से बार-बार साफ करें। इसके साथ ही आयुर्वेद विशेषज्ञ की सलाहनुसार ही सप्तामृत लौह, त्रिफला गुग्गुलु, त्रिफला क्वाथ से नेत्र प्रक्षालन तथा अजाक्षीर (बकरी का दूध) की दो-दो बूदें आंखों में डालने से आई फ्लू रोग प्रकोप से बचा जा सकता है। नजदीकी चिकित्सक से परामर्श जरुर करें।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!