16.9 C
Jodhpur

सावधान: बदलते मौसम में बढ़ रहा सर्दी जुकाम का खतरा

spot_img

Published:

भोपालगढ़। अक्टूबर के महीने में गर्म सर्द का मौसम शुरू हो जाता है, दिन में जहां गर्मी पड़ती है तो रात को ठंड का एहसास होना शुरू हो गया है। ऐसे में गर्म सर्द के इस मौसम में सर्दी जुकाम का खतरा सबसे ज्यादा होता है और संक्रमण का भी खतरा बढ़ जाता है। भोपालगढ़ नगर पालिका क्षेत्र में इस बार मच्छर भी बड़ी संख्या में पनते हैं। जिसके कारण डेंगू के मरीज भी सामने आने लगे हैं। अभी तक स्थिति चिकित्सा विभाग के नियंत्रण में हैं।भोपालगढ़ के उप जिला अस्पताल में इन दिनों मौसम में लगातार परिवर्तन होने के कारण आउटडोर व इंडोर के रूप में देखा जाए तो लगभग 500 मरीज हर रोज आने लगे हैं। भोपालगढ़ अस्पताल के पीएमओ डॉक्टर लोकेंद्र चौधरी ने बताया कि भोपालगढ़ अस्पताल में मौसमी बीमारियां नियंत्रण में है। अस्पताल में आने वाले मरीजों का चिकित्सा विभाग के स्टाफ द्वारा समय पर इलाज करते हुए उन्हें प्राथमिक उपचार दिया जा रहा है। स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर लक्ष्मी पूनिया द्वारा महिलाओं संबंधी विभिन्न प्रकार की समस्याओं का भी मौके पर ही इलाज करते हुए समाधान किया जा रहा है। मौसम में परिवर्तन होने के कारण अस्पताल में ज्यादातर महिलाओं की भीड़ नजर आने लगी है। मौसम में लगातार होने वाले परिवर्तन से बचने के लिए ग्रामीणों को शहद और नींबू की चाय,अदरक की चाय,भाप लेना,हल्दी दूध,खारे पानी के गरारे करने से मरीज बीमार नहीं होते है। भोपालगढ़ अस्पताल में मरीजों की समुचित रूप से इलाज होने के कारण आसपास के गांव से मरीज भी भोपालगढ़ आने लगे हैं। स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर लक्ष्मी पुनिया होने के साथ ही सोनोग्राफी की व्यवस्था होने के कारण भी अस्पताल में महिला मरीज ज्यादातर आने लगे हैं।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!