31.6 C
Jodhpur

28 जुलाई से आरम्भ होगी भोगीशैल परिक्रमा

एक लाख श्रद्धालु होंगे शामिल, 50 से अधिक संगठन देंगे यात्रा में सहयोग

spot_img

Published:

जोधपुर। आगामी 28 जुलाई से शुरू हो रही सात दिवसीय परम्परागत भोगीशैल परिक्रमा को यात्रियों के लिए बेहतर और सुगम बनाने के लिए स्थानीय प्रशासन व्यापक प्रयासों में जुटा हुआ है। अपनी तरह की इस विशाल परिक्रमा यात्रा को लेकर राज्य मेला प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री रमेश बोराणा, राजस्थान पशुधन विकास आयोग के अध्यक्ष श्री राजेन्द्रसिंह सोलंकी, महापौर श्रीमती कुन्ती देवड़ा परिहार, श्री नरेश जोशी तथा जिला कलक्टर श्री हिमांशु गुप्ता ने संबंधित अधिकारियों एवं परिक्रमा से संबंधित प्रतिनिधियों को साथ लेकर एक साथ बस में दौरा किया। इस दौरान नगर निगम आयुक्त श्री अतुल प्रकाश, श्री उत्सव कौशल, आईएएस (प्रशिक्षु) डॉ. अंशुप्रिया, अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर (प्रथम) डॉ. भास्कर बिश्नोई व परिक्रमा से संबंधित विभागीय अधिकारी साथ थे।
इस दौरान् भोगीशैल परिक्रमा के उद्गम से लेकर तमाम पड़ाव स्थलों और हरेक गतिविधि से संबंधित स्थलों व मार्गों का अवलोकन किया और सभी प्रबन्धों को सुनिश्चित करने के लिए संबंधित विभागों एवं अधिकारियों को निर्देशित किया। दोपहर से लेकर शाम तक विभिन्न स्थानों व रात्रि विश्राम के स्थान चौपासनी, बड़ली,वैद्यनाथ,बेरीगंगा एवं अन्य का कई घण्टों का सफर तय करते हुए परिक्रमा में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं के लिए आवागमन, यातायात, विश्राम एवं पड़ाव स्थलों तथा मन्दिरों एवं धार्मिक स्थलों पर सभी प्रकार की सुविधाओं एवं सेवाओं का माकूल प्रबन्ध करने के निर्देश देने के साथ ही कहा गया कि परिक्रमा में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं और सेवाओं का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाए ताकि किसी भी प्रकार की कोई समस्या न रहे।

आशातीत सफलता के लिए व्यापक प्रबंधों के दिए निर्देश
राज्य मेला प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री रमेश बोराणा ने परिक्रमा के सम्पूर्ण रुट एवं विश्राम स्थलों का अवलोकन कर सम्बन्धितों को निर्देश दिए कि यात्रियों के लिए इस सात दिवसीय यात्रा के दौरान साफ़-सफाई, सुरक्षा, विश्राम स्थलों पर सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएँ। उन्होंने कहा कि हर तीन वर्षों के बाद होने वाली यह परिक्रमा मारवाड़ के लिए गौरव का विषय है। इसे देखते हुए इसके प्रबंधों में मारवाड़ की अपणायत दिखनी चाहिए।

सभी ऐहतियाती उपाय सुनिश्चित करें
राज्य पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री राजेंद्र सिंह सोलंकी ने अवलोकन करते हुए उन्होंने कहा की इसके प्रबंध इस प्रकार किये जाएं कि यात्री यहाँ से अच्छे अनुभव लेकर लौटें।

साफ-सफाई पर ध्यान दें
नगर निगम (उत्तर) की महापौर श्रीमती कुन्ती देवड़ा ने परिक्रमा के सम्पूर्ण रुट का अवलोकन कर सम्बंधित अधिकारियों को यात्रा के रुट पर उपयुक्त साफ-सफाई व मार्गों को व्यवस्थित एवं सुगम करने आदि की व्यवस्था के निर्देश दिए।

सभी तैयारियों के प्रति रहें गंभीर
जिला कलक्टर श्री हिमांशु गुप्ता ने निरीक्षण यात्रा के दौरान् सामने आए बिन्दुओं पर सभी संबंधित अधिकारियों को समय रहते सार्थक प्रयास करने के निर्देश दिए और कहा कि सभी सौंपी गई व्यवस्थाएं समय पर अच्छी तरह पूरी करने के प्रति सभी गंभीर रहें ताकि परिक्रमा का यह आयोजन अच्छी तरह सम्पन्न हो सके।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!