31.9 C
Jodhpur

ASP दिव्या मित्तल ने 1 करोड़ की घूस ली, ACB कोर्ट में चार्जशीट पेश

spot_img

Published:

राजस्थान के बहुचर्चित रिश्वत प्रकरण में आज जयपुर एसीबी ने रिश्वत की आरोपी एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल के खिलाफ करीब साढ़े 11 हजार पन्नों की चार्जशीट अजमेर एसीबी न्यायालय में पेश की गई है। जिसे एसीबी आज शुक्रवार को चेक करेगी, जहां दिव्या मित्तल को वापस न्यायालय में पेश किया जाएगा।सभी पन्नों की जांच करते हुए इस मामले में अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। चार्जशीट में कहा है कि एएसपी दिव्या मित्तल ने देहरादून के दवा कारोबारी से एक करोड़ की रिश्वत ली है।

मामले की जानकारी देते हुए जयपुर एसीबी के डिप्टी मांगीलाल चौधरी ने बताया कि राजस्थान में पुलिस द्वारा हरिद्वार से आई नशीली दवाओं की बड़ी खेप पकड़ी थी। इस मामले में पुलिस के बाद इसकी जांच एसओजी को दी गई. इस मामले की जांच एडिशनल एसपी एसओजी दिव्या मित्तल द्वारा की जा रही थी। इस मामले में देहरादून के एक दवा कंपनी के मालिक द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई कि उन्हें इस जांच से निकालने के लिए डरा धमका कर 2 करोड़ की डिमांड की गई और इस प्रकरण में 1 करोड़ की रिश्वत मांगी गई।

जयपुर एसीबी ने इस मामले में अपनी जांच को तेज करते हुए मामले का सत्यापन करवाया और दिव्या मित्तल के 5 ठिकानों पर दबिश देते हुए इस मामले में अजमेर स्थित दिव्या मित्तल के अपार्टमेंट से उन्हें गिरफ्तार भी किया और उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई. इस मामले में सामने आया कि दिव्या मित्तल के उदयपुर में रिसोर्ट है और अलग-अलग स्थानों पर प्रॉपर्टी है साथ ही पैसों के लेनदेन उसका साथी और दलाल सुमित करता है जो अभी फिलहाल फरार है। इस पूरे प्रकरण में दिव्या मित्तल के खिलाफ साढ़े हजार पन्नों की चार्जशीट अजमेर एसीबी न्यायालय में पेश की गई है। इस दौरान रिश्वत प्रकरण में पकड़ी गई निलंबित एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल को भी न्यायालय में पेश किया गया. इस मामले की अगली सुनवाई शुक्रवार को रखी गई है. इस दौरान अजमेर एसीबी न्यायालय द्वारा सभी पन्नों की चेकिंग की जाएगी और चार्जशीट में अगली कार्रवाई की जानी है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!