37.3 C
Jodhpur

डॉ. कृति के नाम एक और उपलब्धि: कलाम यूथ लीडरशिप इंटरनेशनल अवार्ड से सम्मानित

spot_img

Published:

– विश्व के 25 देशों के प्रतिभागियों में राजस्थान से एकमात्र अवार्ड सारथी ट्रस्ट की कृति के नाम रहा

नारद जोधपुर। ख्वाब फाउंडेशन के तत्वावधान में नई दिल्ली में आयोजित पूर्व राष्ट्रपति डॉ.अब्दुल कलाम को समर्पित अन्तरराष्ट्रीय युवा महोत्सव में सारथी ट्रस्ट की मैनेजिंग ट्रस्टी एवं पुनर्वास मनोवैज्ञानिक डॉ.कृति भारती को कलाम यूथ लीडरशिप इंटरनेशनल अवॉर्ड से नवाजा गया है। डॉ.कृति भारती को बाल विवाह निरस्त व रोकथाम की साहसिक मुहिम और बाल व महिला संरक्षण के प्रेरक कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। राजस्थान से एकमात्र वर्ल्ड टॉप टेन चाइल्ड एंड ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट व एडवोकेट डॉ.कृति भारती को यूथ लीडरशिप अवॉर्ड दिया गया।

अन्तरराष्ट्रीय महोत्सव में दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय,राजीव गांधी सेंट्रल युनिवर्सिटी इटानगर अरूणाचल प्रदेश के कुलपति साकेत कुशवाहा,ख्वाब फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ.मुन्ना कुमार, डॉ. अर्चना भट्टाचार्य, गांधीवादी विचारक शुभ्रतो रॉय, बॉलीवुड अभिनेता हीरो राजन व अन्य मौजूद रहे। महोत्सव में सउदी अरब, मलेशिया, श्रीलंका, आस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, बांगलादेश सहित 25 देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए। वहीं भारत के 28 राज्यों के विभिन्न जिलों के प्रतिभागियों ने शिरकत की। ख्वाब फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ.मुन्ना कुमार ने बताया कि प्रतिवर्ष यह अवार्ड  विश्व स्तर पर  अलग अलग क्षेत्र में कार्य करने वाले विशिष्ट लोगों को दिया जाता है। विश्व स्तर पर चुनिंदा शख्सियतों में से इस साल बीबीसी टॉप 100 प्रेरणादायी महिलाओं की सूची में शुमार डॉ.कृति भारती का चयन किया गया।

कृति को वर्ल्ड यूथ आइकॉन का टैग

समारोह में अतिथियों ने डॉ.कृति भारती की बाल विवाह निरस्त की साहसिक मुहिम की मुक्तकंठ सराहना की। उन्होंने डॉ.कृति भारती को वर्ल्ड यूथ आइकॉन का नया टैग भी दिया।

बाल विवाह निरस्त की साहसिक मुहिम से सारथी ट्रस्ट विश्व पटल पर

उल्लेखनीय है कि वर्ल्ड टॉप टेन एक्टिविस्ट और बीबीसी 100 प्रेरणादायक महिलाओं की सूची में शामिल डॉ.कृति भारती ने देश का पहला बाल विवाह निरस्त करवाकर अनूठी पहल की थी। डॉ.कृति ने अब तक 50 जोड़ों के बाल विवाह निरस्त करवाए और 1800 से अधिक बाल विवाह रूकवाए हैं। बाल विवाह के खिलाफ उनकी मुहिम के अलग-अलग कार्यों को 7 अंतरराष्ट्रीय व राष्ट्रीय रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है। सीबीएसई बोर्ड ने भी अपने पाठ्यक्रम में डॉ.कृति की मुहिम को शामिल किया। डॉ.कृति को जेनेवा के ह्यूमन राइट्स अवार्ड सहित कई राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय सम्मानों से नवाजा जा चुका है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!