27.1 C
Jodhpur

कृषि विभाग, कृषि विवि व इफको टीम ने किया रैपिड सर्वे

spot_img

Published:

नारद चामू। क्षेत्र के बारनाऊ ग्राम पंचायत स्थित करनी नगर में शुक्रवार को कृषि विभाग व कृषि विश्वविधालय इफको जोधपुर के दल द्वारा फसलों में रैपिड सर्वे किया गया। जिसमे क्षैत्र में मुंगफली, कपास, बाजरा , मूंग की फसल में लगने वाले कीट व बीमारियों की जानकारी ली गई। मुंगफली में गोजालट,कॉलर रोट, की बीमारी पाईं गई। कॉलर रोट की रोकथाम बाबत कार्बेंडाजिम .2 % या ट्रैकोड्रामा 2.5 किलो पर हैक्टर का उपयोग करे। गोजा लट की रोकथाम के लिए इमिडेक्लोरोपिड 17.8%की 300 मिली प्रति हैक्टर का छिड़काव करे।

इसी तरह कपास में जड़ गलन की रोकथाम बाबत कार्बेंडाजिम .2 % या ट्रैकोड्रामा 2.5किलो पर हैक्टर का उपयोग करे। इफको के प्रबंधक जितेन्द्र कुमार भाखर ने किसानों को बताया कि किसान अभी अपनी फसलों में बड़वार व नाइट्रोजन व फास्फोरस बाबत इफको नैनो यूरिया व नैनो डी एपी का छिड़काव कीटनाशक के साथ मिलाकर स्प्रे करें। बंशीधर ने बताया की किसान ट्रिकोड्रामा एटीसी रामपुरा से 125 रू प्रति किलो से खरीद सकते है।

टीम में एटीसी रामपुरा से बंशीधर पादप रोग विशेषज्ञ, रमेश यादव कीट विशेषज्ञ, कृषि विश्वविधालय से डा अशोक कुमार मीना सह आचार्य कृषि विभाग, डा जितेन्द्र सिंह चौहान कृषि अधिकारी, इफको के सहायक प्रबंधक जितेंद्र कुमार भाखर, कृषि पर्यवेक्षक महिपाल गोदारा, धीरज शर्मा, संदीप सिंह, चंदूराम धतरवाल, मांगीलाल गोरा, प्रेमराज पालीवाल, करण पुरी सहित किसानों ने भाग लिया।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!