33.1 C
Jodhpur

एक हजार रुपए की माचिस की डिब्बी! तस्करों ने स्मैक किट बना डाला, 15.65 ग्राम स्मैक पकड़ी

spot_img

Published:

– फलोदी जिला पुलिस की कार्रवाई, दो बदमाश गिरफ्तार

नारद आऊ। इस खबर का हैडिंग पढ़कर चौंक गए होंगे, लेकिन ये हकीकत है। मादक पदार्थ तस्करों ने ये नया रास्ता निकाला है युवाओं को नशे की जद से बाहर नहीं निकलने देने का। ऐसे ही एक नेटवर्क को तोड़ा है फलोदी पुलिस ने। फलोदी जिला पुलिस की टीम ने गुरुवार को एक बड़ी कार्रवाई करते हुए दो तस्करों को गिरफ्तार किया, तो एकबारगी पुलिस टीम भी चौंक गई, क्योंकि तस्करों ने स्मैक सप्लाई के लिए एक हजार रुपए की माचिस डिब्बी का किट बना डाला। इस किट में एक ग्राम स्मैक के साथ पन्नी और तिल्लियां भी शामिल की गईं है। यानि, नशे के आदी युवाओं को इस लत से जकड़े रखना। पुलिस ने बदमाशों से 15.65 ग्राम स्मैक बरामद कर आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

एसपी (फलोदी) विनीत कुमार बंसल ने बताया कि जिले में मादक पदार्थ तस्करी पर अंकुश लगाने और वांछित बदमाशों की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में गुरुवार को जांबा थाने के उप निरीक्षक सुरेश सारण की टीम ने दो तस्करों को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से 15.65 ग्राम स्मैक और बाइक जब्त की है।

एसपी बंसल के अनुसार जांबा थाने की टीम ने गुरुवार को थाना क्षेत्र के धौलासर स्थित जीआरजी कॉलेज के पास नाकाबंदी कर संदिग्ध वाहनों की तलाशी का अभियान चलाया। इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो युवकों की तलाशी में पुलिस टीम को स्मैक की कई पुड़िया बरामद हुईं। इस पर पुलिस टीम ने बाइक सवार तस्कर लोहावट थानांतर्गत मोरिया पोलाणियों की ढाणी निवासी सद्दाम हुसैन (24) पुत्र रहमान खां और उसके साथी जांबा थानांतर्गत जांबा की ढाणी निवासी ओमप्रकाश विश्नोई (32) पुत्र जोराराम को गिरफ्तार कर लिया।

माचिस की डिब्बी को बनाया नशे का किट, कीमत 1000 रुपए

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (फलोदी) सौरभ तिवाड़ी ने बताया कि पकड़े गए तस्करों ने स्मैक का नशा करने वालों के लिए किट बना रखा था। पकड़े जाने पर इनके पास माचिस की डिब्बियां मिली, तो पुलिस टीम भी एकबारगी चौंक गई। इन्हें ढंग से चैक करने पर पता चला कि उन माचिस की डिब्बियों में एक-एक ग्राम स्मैक और इसका नशा करने में प्रयुक्त पन्नी व माचिस की तिल्लियां रखकर पूरा किट बनाया गया है। इस एक माचिस की डिब्बी वाले किट को बदमाश नशे के आदी युवाओं को एक हजार रुपए में बेचते थे।

यह टीम होगी पुरस्कृत

उप अधीक्षक (फलोदी) रामकरणसिंह मलिंडा ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ कर बड़े सप्लायर्स के बारे में पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। थानाधिकारी जांबा सुरेश सारण की अगुवाई में कार्रवाई करने वाली टीम में शामिल हैड कांस्टेबल देवाराम, भरमलराम, कांस्टेबल मनफूल, विशेष भूमिका निभाने वाले कांस्टेबल थानाराम व चेतनराम को पुलिस अधीक्षक की ओर से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!