31.8 C
Jodhpur

आठ दिनों में ट्रेनों में 368 यात्री कचरा फैलाते पकड़े

spot_img

Published:

-रेलवे का स्वच्छता पखवाड़ा
-368 यात्रियों से 37 हजार 600 रुपए वसूले
-जारी रहेगा जांच अभियान

जोधपुर। रेलवे द्वारा ट्रेनों में और रेलवे स्टेशनों पर गंदगी फैलाने वाले यात्रियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। स्वच्छता के नियमों का उल्लंघन करने पर रेलवे का जुर्माने का भी प्रावधान है।
उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल पर मनाए जा रहे स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत पहले आठ दिनों में रेलवे के इस नियम का उल्लंघन करते बड़ी संख्या में यात्री पकड़े गए तथा उन पर एक सौ से पांच सौ रुपए तक का जुर्माना आरोपित किया गया।
डीआरएम पंकज कुमार सिंह ने बताया कि हालांकि ट्रेन अथवा रेल परिसर में कचरा फैलाते पाए जाने पर आम दिनों में भी कार्यवाही की जाती है लेकिन स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत ऐसे यात्रियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है।
उन्होंने बताया भारतीय रेलवे पर 16 सितंबर से स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जा रहा है तथा इस दौरान जोधपुर मंडल पर पहले आठ दिनों में रविवार तक गंदगी फैलाने के कुल 368 मामले पकड़े गए तथा इस मद में यात्रियों से 37 हजार 600 रुपए का राजस्व वसूल किया गया है।
डीआरएम ने रेल यात्रियों से ट्रेनों और रेल परिसर को सदैव स्वच्छ व साफ-सुथरा बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि रेल परिसर व ट्रेनों में साफ-सफाई की उचित व्यवस्था है लेकिन इसके लिए यात्रियों का सहयोग बेहद जरूरी है।
सीनियर डीसीएम विकास खेड़ा ने बताया कि डीआरएम के निर्देश पर मंडल की सभी ट्रेनों में चलाए जा रहे सघन टिकट जांच अभियान के तहत कचरा फैलाते पाए जाने वाले यात्रियों से भी जुर्माना वसूला जाता है तथा अभियान निरंतर जारी रखा जाएगा।
टीटीई को है जुर्माने का अधिकार
ट्रेन अथवा रेलवे परिसर में कचरा और गंदगी फैलाते पाए जाने पर टिकट चेकिंग स्टाफ को जुर्माना वसूलने का अधिकार है तथा इस मद में वह यात्री से 100 रुपए से लेकर 500 रुपए तक की वसूली कर सकता है और इसके लिए यात्री को अतिरिक्त किराया टिकट (ई एफटी) जारी की जाती है।

368 passengers caught spreading garbage in trains in eight days

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!