32.4 C
Jodhpur

वकील ने मुझे फंसाया…रामदेव पर केस करने वाला मुस्लिम शख्स हटा पीछे

spot_img

Published:

योग गुरु बाबा रामदेव पर बीते दिनों राजस्थान के बाड़मेर जिले में केस दर्ज हो गया था। बाबा रामदेव पर पिठाई खान नाम के एक शख्स ने धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। अब पिठाई खान ने दावा किया है कि उन्हें इस शिकायत के बारे में कोई जानकारी नहीं है। पिठाई ने कहा कि उनके वकील ने उन्हें धोखा दिया है।

मुझे फंसाया गया…
बाबा रामदेव के खिलाफ केस दर्ज कराने वाले पिठाई खान ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि उन्हें फंसाया गया है। खान ने कहा कि उन्हें शिकायत के बारे में कोई जानकारी नहीं है। वो इस मामले में कोई शिकायत दर्ज भी नहीं कराना चाहते हैं। पिठाई खान ने दावा किया कि उनके वकील ने उन्हें जमीन विवाद से जुड़े एक मामले को लेकर फोन किया था। इसी बहाने वकील ने उनके हस्ताक्षर ले लिए। पिठाई ने मीडिया से बताया कि वो अनपढ़ हैं। वो इस मामले में आगे कोई कार्रवाई नहीं चाहते हैं।

बाबा रामदेव पर क्यों हुआ था केस
5 फरवरी को पिठाई खान ने बाबा रामदेव पर मुस्लिम समुदाय के खिलाफ दुश्मनी, नफरत और कटुता को बढ़ावा देने वाले भड़काऊ बयान देने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। बता दें कि राजस्थान के बाड़मेर में 2 फरवरी को बाबा रामदेव ने एक धार्मिक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित किया था। उस कार्यक्रम में बाबा रामदेव ने कथित तौर पर कहा कि ‘मुसलमान के लिए इस्लाम का मतलब है केवल नमाज पढ़ो। फिर चाहे कुछ भी करो। चाहे आतंकवादी बनो, अपराधी बनो या हिंदुओं की लड़कियां उठाओ, कुछ भी करो लेकिन पांच बार नमाज पढ़ो।’ बाबा रामदेव के इस बयान के बाद पिठाई खान ने उन पर केस दर्ज किया था। अब पिठाई खान ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है। 

हालांकि बाड़मेर जिला कलेक्टर ने ऐसा कोई ज्ञापन मिलने से इनकार किया है। वहीं बाड़मेर के पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने कहा कि उनके पास भी ऐसा कोई ज्ञापन नहीं आया है। दीपक भार्गव ने कहा, एक बार केस दर्ज होने के बाद इसे वापस नहीं लिया जा सकता है। पुलिस शिकायत के अनुसार कार्रवाई करेगी।

ईसाइयों पर भी विवादित बयान?
योग गुरु बाबा रामदेव पर बाड़मेर के धार्मिक कार्यक्रम में इस्लाम के खिलाफ कथित आपत्तिजनक बयान देन के साथ-साथ ईसाई धर्म पर भी विवादित बयान देने का आरोप लगा था। रामदेव पर आरोप लगा कि उन्होंने कार्यक्रम में कहा कि ‘ईसाई दिन में चर्च जाकर मोमबत्ती जलाते हैं और समझते हैं कि उनके सारे पाप धुल गए।’

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!