32.4 C
Jodhpur

रोजे में 24 घंटे बिजली, नवरात्रि पर नहीं; गहलोत पर बरसे जोशी तो हंगामा

spot_img

Published:

राजस्थान के चित्तौरगढ़ से भारतीय जनता पार्टी के सांसद सीपी जोशी मंगलवार को संसद में गहलोत सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने गहलोत सरकार पर तुष्टिकरण के आरोप लगाते हुए कहा कि राजस्थान सरकार रोजे के दिनों में 24 घंटे बिजली का आदेश देती है, लेकिन नवरात्रि की चिंता नहीं करती है। अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के लिए मोदी सरकार को क्रेडिट देते हुए सांसद ने कहा कि गहलोत सरकार मंदिरों को तुड़वा रही है।

सीपी जोशी ने बजट में किए गए प्रावधानों के लिए मोदी सरकार की तारीफ करते हुए अयोध्या में राम मंदिर के लिए क्रेडिट देते हुए कहा, ‘आज अयोध्या में देश का नहीं दुनिया का सबसे बड़ा सांस्कृतिक और आध्यात्मिक केंद्र बन रहा है। आपने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दिया कि राम काल्पनिक हैं। राम ने कभी जन्म नहीं लिया। आपने ही थे जिन्होंने बाबा साहब के लिखे संविधान में से प्रभु श्री राम का, लक्ष्मण जी का और सीता मैया का पेज हटाने का पाप किया। आपने श्रीकृष्ण और अर्जुन वाला पृष्ठ हटाया, संकट मोचक हनुमान जी को हटाया।’

जोशी ने कहा,’आपने ऐसा भी काम किया है, रानी पद्मावती जिन्होंने अपने सतीत्व की रक्षा के लिए अलाउद्दीन खिलजी को अपना चेहरा नहीं दिखाया, जलते हुए अंगारों में 16 हजार रानियों के साथ खुद को स्वाहा कर लिया, लेकिन आप ने वहां लगे चिह्न को हटाने का काम किया।’ इस पर डीएमके समेत विपक्ष दलों के सांसदों ने आपत्ति जाहिर की। उन्होंने सती प्रथा के समर्थन का आरोप लगाया तो जोशी ने कहा कि उन्होंने सतीत्व की रक्षा पर यह बात कही है और इस पर अडिग हैं। हंगामा बढ़ने पर स्पीकर ने कुछ देर के लिए कार्यवाही को स्थगित कर दिया। उन्होंने कहा कि इसकी जांच करेंगे।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!