29.7 C
Jodhpur

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, डेढ़ घंटे में पूरा होगा 4 घंटे का सफर रेल मंत्री का बड़ा ऐलान

spot_img

Published:

जयपुर से देश की राजधानी दिल्ली के बीच वंदे भारत ट्रेन का संचालन जल्द शुरू होगा. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया है कि फरवरी के अंत तक इस रूट पर वंदे भारत दौड़ना शुरू हो जाएगा.

इसके बाद दिल्ली-जयपुर के बीच का सफर महज 1.45 घंटे का हो जाएगा। उम्मीद है कि मार्च 2023 से पहले यात्री दिल्ली-जुपारी रूट पर वंदे भारत के सफर का लुत्फ उठा सकेंगे।

जयपुर के विकास से जुड़े मुद्दों पर चर्चा के लिए भाजपा सांसद रामचरण बोहरा केंद्रीय मंत्री से मिलने पहुंचे थे. इसी दौरान दोनों के बीच वंदे भारत ट्रेन को लेकर चर्चा हुई। बता दें कि वंदे भारत पूरी तरह से स्वदेश निर्मित ट्रेन है। यह अधिकतम 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है। हालांकि, फिलहाल इसे 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ही चलाया जाता है।

कितना होगा किराया और कहां रुकेगा?

इस ट्रेन के मार्च 2023 से पहले शुरू होने की उम्मीद है, लेकिन रेलवे की ओर से अभी तक यह नहीं बताया गया है कि यह ट्रेन कहां और कहां रुकेगी. हालांकि 1.45 मिनट के सफर के चलते माना जा रहा है कि इस ट्रेन के ज्यादा स्टॉपेज नहीं होंगे. इसके अलावा रेलवे की ओर से अभी तक ट्रेन के किराए को लेकर कोई जानकारी साझा नहीं की गई है। दिल्ली और जयपुर के बीच वंदे भारत चलने से लोगों के खर्च और समय दोनों की बचत होगी।

15 फरवरी 2019 को पहली वंदे भारत ट्रेन किन रूटों पर चलाई गई। इसे दिल्ली से वाराणसी के बीच चलाया गया। इसके बाद रेलवे ने गांधीनगर-मुंबई, नई दिल्ली-अंब अंदौरा, हावड़ा-न्यूजलपाईगुड़ी, नागपुर-बिलासपुर, विशाखापत्तनम-सिकंदराबाद, चेन्नई-मैसूर और नई दिल्ली-श्री माता वैष्णो देवी कटरा के लिए भी वंदे भारत परिचालन शुरू किया।

वंदे भारत सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस 100 प्रतिशत स्वदेशी ट्रेन है। इसमें यात्रियों के लिए कई तरह की आधुनिक सुविधाएं दी गई हैं। यह ट्रेन लोगों को तेज और आरामदायक यात्रा का आनंद लेने का मौका देती है। इस ट्रेन की न्यूनतम गति 75-77 किमी प्रति घंटा है और यह गति चेन्नई-मैसूर मार्ग पर देखी जाती है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!