32.4 C
Jodhpur

राहुल बोले- दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं, ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ पर नहीं चाहिए सबूत

spot_img

Published:

 कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि वह और उनकी पार्टी ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ पर दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं हैं और सशस्त्र बलों को कोई सबूत दिखाने की जरूरत नहीं है. गांधी ने जम्मू-कश्मीर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ये बातें कही.

राहुल गांधी ने कहा, ‘जो दिग्विजय सिंह जी ने कहा है उससे मैं बिल्कुल सहमत नहीं हूं, हमारी आर्मी पर हमें पूरा भरोसा है अगर आर्मी कुछ करे तो उन्हें सबूत देने की जरूरत नहीं है. उनका बयान निजी है वो हमारा नहीं है.’

सिंह ने सोमवार को ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ पर सवाल उठाया था और सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया था.

गांधी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मैं दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं हूं. यह पूरी तरह स्पष्ट है कि हम इससे असहमत हैं. यह कांग्रेस का आधिकारिक रुख है.’

उन्होंने कहा, ‘उन्हें (सशस्त्र बलों को) कोई सबूत देने की जरूरत नहीं है.’

जम्मू-कश्मीर में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए सिंह ने सोमवार को कहा था, ‘वे ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की बात करते हैं. वे कई लोगों को मारने की बात करते हैं लेकिन कोई सबूत नहीं दिया. वे झूठ के पुलिंदों के सहारे शासन कर रहे हैं.’

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने दिग्विजय के बयान को लेकर कहा, ‘हमने पहले भी स्पष्ट किया है कि हम हमारी सेना के साथ हैं. हम हमेशा देश की एकता के लिए काम करते हुए आए हैं, आगे भी वैसे ही करेंगे. देश के लिए सभी एक हैं.

दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया था

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भारत सरकार की सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर पीएम मोदी पर सोमवार को एक बार फिर निशाना साधा था. भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक जनसभा में उन्होंने कहा था कि सरकार कभी भी सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में खुलकर बात नहीं करती और न ही इस बारे में कोई स्पष्ट सबूत पेश किए गए.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था पुलवामा हमले के बारे में पीएम मोदी खुल कर बात क्यों नहीं करते हैं.
दिग्विजय ने कहा था कि पीएम मोदी केवल झूठ फैलाते हैं. वे कहते हैं कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक में इतने लोग मार गिराए…लेकिन प्रमाण कुछ नहीं है.

सिंह ने कहा था कि केवल झूठ के पुलिंदे बन कर ये लोग राज कर रहे हैं. सर्जिकल स्ट्राइक पर संसद में कोई रिपोर्ट नहीं पेश की गई.

कांग्रेस पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर केंद्र पर हमलावर रही है. अब एक बार फिर पार्टी के एक नेता ने इस पर सवाल खड़े किए हैं.

बता दें, 14 फरवरी 2019 को, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों पर हुए आत्मघाती हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए थे. इसके कुछ ही दिन बाद भारत सरकार ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक की थी. इस दौरान आतकंवादी जैश-ए-मोहम्मद के कैंप के 200 से ज्यादा आतंकियों को कथित तौर पर मार गिराया गया था.

इस दौरान भारतीय सेना के एक जवान अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान की सेना ने कब्जे में ले लिया था. हालांकि, बाद में वे सुरक्षित भारत लौट आए थे.

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!