25.7 C
Jodhpur

राजस्थान में 2 करोड़ वाली घूसखोर अफसर ASP दिव्या मित्तल सस्पेंड

spot_img

Published:

राजस्थान में दो करोड़ की रिश्वत के आरोप में एसीबी द्वारा गिरफ्तार करने के बाद एएसपी दिव्या मित्तल को राज्य सरकार ने निलंबित कर दिया है। राज्य के गृह विभाग ने निलंबन के आदेश जारी कर दिए है। गृह विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार एएसपी दिव्या मित्तल का निलंबन काल के दौरान मुख्यालय कार्यालय, महानिदेश पुलिस राजस्थान, जयपुर होगा। अजमेर में करोड़ों रुपए की नशीली दवा तस्करी मामले में जांच कर रही अजमेर SOG की एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल को एसीबी ने जांच के घेरे में ले लिया था। एसीबी ने सोमवार  सुबह अजमेर ,उदयपुर ,झुंझुनू और जयपुर में दिव्या मित्तल के पांच ठिकानों पर एक साथ सर्च किया गया। जिसके बाद एसबी ने मित्तल को जयपुर में गिरफ्तार कर मामले में तफ़्तीश शुरू की है। 

बता दें, हाल ही एसीबी ने दिव्या मित्तल को 2 करोड़ की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। दिव्या मित्तल को इसकी भनक लग गई थी। इसलिए उसने अपना मोबाइल आनासागर झील में फेक दिया था। एसीबी मोबाइल की तलाश कर रही है।घूस लेते पकड़ी गई एएसपी दिव्या मित्तल की पहली पोस्टिंग उदयपुर में ही रही। यहां प्रशिक्षण काल के बाद कई पदों पर रहते हुए उसने प्रॉपर्टी बनाई। एसीबी अधिकारियों का कहना है कि उदयपुर में आलीशान फार्म हाउस, रिसोर्ट के अलावा अलग-अलग जगह पर कई सम्पत्तियां है। एसीबी अधिकारियों का कहना कि एएसपी मित्तल उदयपुर में प्रशिक्षु काल के बाद गिर्वा उपाधीक्षक रही। इस दौरान उसका उदयपुर से विशेष लगाव हो गया, पुलिस विभाग के बाद आबकारी महकमा व जीआरपी में भी रही।

उदयपुर में मित्तल का चिकलवास में एक आलीशान रिसोर्ट व फार्म हाउस है। जयपुर एसीबी की टीम ने वहां सर्च कर आवश्यक साक्ष्य जुटाए। एसीबी अधिकारियों ने बताया कि वर्ष 2015 मित्तल ने अपने पति के खिलाफ प्रताडऩा का मामला भी दर्ज करवाया था। यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में स्टे के कारण लंबित है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!