32.4 C
Jodhpur

राजस्थान में पाला पड़ने से सरसों की फसल चौपट, किसानों ने चलाए हल

spot_img

Published:

राजस्थान के किसानों पर शीतलहर ने जमकर कहर बरपाया है। राजस्थान के झुंझुनूं जिले में पाले और शीतलहर से किसानों की 80 फीसदी फसल खराब हो गई है। किसानों का कहना है कि चार दिन तक लगातार पड़े पाले से सरसों की फसल को काफी नुकसान पहुंचाया है। फसल को हुए नुकसान से किसान बेहद परेशान हैं। किसानों की फसलें खराब होने के बाद सूबे का कृषि और राजस्व विभाग सक्रिय हो गया है। कृषि विभाग के बाद राजस्व विभाग की ओर से विशेष गिरदावरी की जा रही है। सरसों की फसल को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा है। आलम यह है कि 80 फीसदी तक फसल खराब हो गई है। 

किसानों का कहना है कि अब फसल की मड़ाई में मेहनत और मजदूरी लगाने का कोई फायदा नहीं होने वाला है। इसी तरह बाकरा के किसान रणजीत खीचड़ ने कहा कि उन्होंने 12 बीघा में सरसों की फसल लगाई थी। पाले से सरसों की फसल नष्ट हो गई। नयासर निवासी इलियास का कहना है कि तिलहन के भाव अधिक होने के चलते इस बार 25 बीघा में सरसों की बुआई की थी लेकिन पाला पड़ने से सरसों की फसल नष्ट हो गई। बीते दिनों जिले में तापमान जमाव बिंदु पर रहा। इस कारण चार तीन तक पाला पड़ा। 

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!