32.4 C
Jodhpur

राजस्थान में जाली नोट छापने वाले गिरोह का खुलासा, गिरफ्त में ऐसे आए

spot_img

Published:

राजस्थान के कोटा जिले में पुलिस ने जाली नोट छापने वाले गिरोह का खुसासा किया है। मण्डाना थाना पुलिस ने रविवार को नाकाबंदी में ओमनी वैन में सवार तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जाली नोट छापने वाले गिरोह का खुलासा किया है। इनके पास से 200 रुपये के 4 जाली नोट, नोट छापने में प्रयुक्त रंगीन प्रिंटर व उच्च क्वालिटी के पेपर की 2 रिम बरामद की गई है।  ग्रामीण एसपी कावेंद्र सिंह सागर ने बताया कि आरोपी सुरेश कुमार गुर्जर पुत्र प्रभुलाल (26) निवासी वार्ड नंबर 11 थाना सुकेत, मनीष चौधरी पुत्र विक्रम (21) निवासी बावड़ीखेड़ा थाना झालरापाटन तथा हुकम चंद गुर्जर पुत्र सीताराम (25) निवासी गिरधरपुरा थाना झालरापाटन को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्तों से पुलिस की टीम अनुसंधान कर रही है। पूछताछ में जाली नोट के बड़े गिरोह का खुलासा होने की संभावना है।

एसपी सागर ने बताया कि गणतंत्र दिवस के मध्य नजर सभी थाना क्षेत्रों में संदिग्ध व्यक्तियों व असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रख सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुण माच्या व सीओ गजेंद्र सिंह के निर्देशन तथा थानाधिकारी श्यामा राम के नेतृत्व में रविवार को नेशनल हाईवे 52 पर नाकाबंदी कर वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इसी दौरान एक संदिग्ध मारुति ओमनी वैन को रुकवा कर चेक किया तो वेन में तीन व्यक्ति सुरेश, मनीष और हुकमचंद बैठे मिले। जिनकी तलाशी में 200 रुपये के चार जाली नोट मिले। वेन के अंदर रंगीन प्रिंटर व नोट छापने के उच्च क्वालिटी के पेपर की 2 रिम मिली, जिन्हें जप्त किया गया।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!