46.1 C
Jodhpur

राजस्थान में कांग्रेस विधायक का बेटा गैंगरेप में गिरफ्तार, जानें मामला

spot_img

Published:

राजस्थान में नाबालिग से गैंगरेप के मामले में कांग्रेस विधायक जौहरी लाल मीना के बेटे को दौसा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।  पुलिस ने आरोपी दीपक मीना को पोक्सो कोर्ट में किया पेश। बता दें, आरोपी पर मार्च 2022 में गैंगरेप का केस दर्ज हुआ था। मामले में पुलिस 2 आरोपियों को पहले कर चुकी है। राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी लगातार इस मुद्दे को उठा रही थी। बता दें, पिछले साल आरोपियों के खिलाफ दौसा जिले के मंडावर थाने में गैंगरेप का मामला दर्ज हुआ था।  अलवर के राजगढ़- लक्ष्मणगढ़ विधायक जौहरी लाल मीणा के बेटे दीपक मीणा सहित तीन दोस्तों के खिलाफ गैंग रेप का मुकदमा दर्ज हुआ। आरोपियों ने 10 वीं में पढ़ने वाली एक छात्रा को रैणी इलाके से अगवा किया था। इसके बाद मंडावर थाना क्षेत्र के महुआ-मंडावर रोड स्थित समलेटी पैलेस होटल लेकर आये थे, जहां घटना को अंजाम  दिया गया। कोर्ट ने आरोपी दीपक कुमार को 13 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। 

महुआ पुलिस उपाधीक्षक ब्रजेश कुमार के मुताबिक 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली एक छात्रा ने 26 मार्च 2022 में दौसा के मंडावर थाने में इस संबंध में मुकदमा दर्ज कराया था। अपनी रिपोर्ट में उसने बताया कि मंडावर थाना इलाके के समलेटी होटल में विवेक शर्मा, दीपक मीणा और नरेश समलेटी ने उसके साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने पूरे मामले की जांच पड़ताल कर आरोपी विवेक शर्मा और नेतराम समलेटी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। वहीं विधायक पुत्र दीपक उर्फ दिलीप मीणा को आरोपी नहीं मानते हुए न्यायालय में चार्जशीट पेश कर दी थी। इसके बाद दौसा की पोक्सो कोर्ट में परिवादी के वकील ने सीआरपीसी की धारा 190 के तहत आरोपी दीपक मीणा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी करने का का प्रार्थना पत्र पेश किया। उसके बाद न्यायालय ने विधायक के बेटे दीपक मीणा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिए। 

पीड़िता के वकील ने भी राजस्थान उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया तो राजस्थान हाई कोर्ट ने निर्देश दिए कि 23 जनवरी तक आरोपी दीपक मीणा को दौसा पुलिस गिरफ्तार करे। अन्यथा दौसा पुलिस अधीक्षक खुद हाईकोर्ट में खुद आकर पेश हो। इसके बाद दौसा पुलिस सक्रिय हुई। सोमवार को पुलिस दौसा के महुआ में नाकाबंदी कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को विधायक का पुत्र जाता हुआ दिखाई दिया। इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। बाद में कोर्ट में पेश किया गया ।पोक्सो कोर्ट की न्यायाधीश अनु अग्रवाल ने विधायक के बेटे को जेल भेजने के निर्देश दिए हैं।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!