36 C
Jodhpur

राजस्थान में ओलावृष्टि,पश्चिम विक्षोभ सक्रिय होने से मौसम ने मारी पलटी

spot_img

Published:

राजस्थान में सक्रिय हुए पश्चिम विक्षोभ के चलते दक्षिण राजस्थान में कई जगहों पर बारिश हुई है। उदयपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ सहित कई स्थानों पर तेज हुए बारिश से सर्दी अचानक बढ़ गई है। कुछ जिलों में सीजन की पहली मावट हुई है। उदयपुर शहर में शनिवार को जमकर बारिश हुई है। जिसकी वजह से कई स्थानों पर पानी भर गया है। मौसम विभाग केंद्र जयपुर के अनुसार 29 और 30 जनवरी को बारिश का दौर जारी रहेगा। मौसम विभाग ने अलवर, भरतपुर, बूंदी, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झुंझुनूं,  सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक और नागौर जिले में ओलावृष्टि का अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के तीन स्थानों पर पारा माइनस में चला गया है। फतेहपुर, चूरू और जयपुर के जोबनेर में माइनस में पारा रहा है। जबकि राज्य के एकमात्र हिल स्टेशन माउंट आबू में जीरो डिग्री तापमान दर्ज किया गया है।

राजस्थान सहित शेखावाटी में पिछले तीन दिन से सर्द हवाएं चलने से ठिठुरन बढ़ गई है। न्यूनतम तापमान लगातार तीसरे दिन भी गिरकर माइनस 1.5 डिग्री पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार 28 जनवरी को प्रदेश के कई जिलों सहित शेखावाटी में दोपहर बाद मौसम बदल जाएगा। 29 जनवरी को दर्जनभर जिलों में बारिश, ओलावृष्टि और झौकेदार हवाओं का जोर रहेगा।

मौसम विभाग की माने तो 29 जनवरी को अजमेर, अलवर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झुंझुनूं, करौली, सीकर, टोंक, चूरू और नागौर में ओलावृष्टि, बारिश और झौकेदार हवाओं का आरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 30 जनवरी से उत्तर और उत्तर पूर्वी जिलों में बारिश होगी। 31 जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ का असर कम होने लगेगा।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!