25.7 C
Jodhpur

बाड़मेर में साधु ने की खुदकुशी, गौशाला में सुसाइड से पहले बनाया वीडियो; लगाए ये आरोप

spot_img

Published:

राजस्थान के बाड़मेर जिले में गोशाला में एक साधु ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। सुसाइड से पहले साधु ने वीडियो बनाया और इसमें तीन लोगों का नाम लेकर कहा कि इन्होंने इतना टॉर्चर किया कि अब जान दे रहा हूं।घटना बाड़मेर ग्रामीण थाना क्षेत्र के दांता गांव की है। मामला शुक्रवार सुबह 5 बजे का है। इधर, वीडियो सामने आने के बाद पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है। थानाधिकारी परबत सिंह ने बताया कि गांव दांता गांव में पाबूजी राठौड़ नाम की गौशाला है। यहां साधु दयालपुरी (70) पिछले 7-8 साल से इसका संचालन कर रहे हैं और वे यहीं रहते थे। कुछ स्टाफ भी गौशाला में था। रात में दयालपुरी समेत अन्य स्टाफ सो गया था।

 

साधु दयालपुरी ने सुसाइड से पहले एक वीडियो भी बनाया। इसमें तीन लोगों पर आरोप लगाया। वीडियो में वे बोल रहे थे- जय गोपाल जय गौ माता… मेरा नाम दयालपुरी महाराज है। मैं श्री पाबूजी राठौड़ गौशाला चला रहा हूं। आज बहुत ही दुखद भरी खबर है। मैं मेरी जिंदगी को समाप्त कर रहा हूं। बड़े मन से और प्रेम से जीवन को समाप्त कर रहा हूं। चेनाराम बेनीवाल और उसकी पत्नी ने मुझे इतना टॉर्चर किया है कि मैं आज आत्महत्या कर रहा हूं। राम गोपाल जोशी गौशाला का अकाउंटेंट है। मैंने उस पर बहुत भरोसा किया, लेकिन वो मेरी गौशाला के सभी डॉक्युमेंट लेकर फरार हो गया। 2 दिन हो गए है वो डॉक्युमेंट लेकर फरार है। मास्टर माइंड चेनाराम और उसकी पत्नी है और यह लोग जेल जाने चाहिए।

 

परबत सिंह बताया कि रात में ही दयालपुरी ने गौशाला में टीनशेड पर रस्सी का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। सुबह 5 बजे जब स्टाफ उठा तो दयालपुरी फंदे पर लटक रहे थे। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बाड़मेर के जिला हॉस्पिटल की मॉर्च्युरी में रखवाया है। बाड़मेर डीएसपी आनंद सिंह राजपुरोहित ने बताया कि घरवालों की रिपोर्ट पर 306 में मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!