27.1 C
Jodhpur

पेपर लीक मामले में महिला के तेवर देख CM गहलोत सिर्फ सिर हिलाते रहे

spot_img

Published:

राजस्थान में आरपीएससी सेकेंड ग्रेड भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामला गहलोत सरकार के लिए परेशानी का सबब बन गया है। सीएम गहलोत को एक महिला ने खरी-खरी सुनाई है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने वीडियो ट्वीट किया है। पूनिया ने ट्वीट कर कहा-जब तथाकथित जादू का पीड़ित सच से सामना हुआ।डाबला, श्रीगंगानगर में एक मां ने मुख्यमंत्री जी को सुनाई खरी खरी। बता दें शनिवार को सीएम गहलोत श्रीगंगानगर के दौरे पर थे। इस दौरान सीएम ने स्थानीय लोगों से बात भी की। वीडियो में सीएम गहलोत एक महिला से संवाद करते हुए दिखाई दे रहे हैं। साथ में प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा भी खड़े हैं। पेपरलीक मामले को लेकर सीएम महिला के निशाने पर आ गए है। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शनिवार को श्रीगंगानगर के गांव डाबला स्थित गुरु जंभेश्वर मंदिर में दर्शन करने पहुंचे सीएम गहलोत को पेपरलीक की घटनाओं पर दुखी और आक्रोशित महिला ने जमकर खरी-खरी सुनाई।  साठ वर्षीय ग्रामीण महिला मुख्यमंत्री गहलोत से मिली और ठेठ राजस्थानी ग्रामीण भाषा में सीएम को जमकर खरी-खरी सुना दी। बड़ी बात यह इस वाकये के दौरान प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा भी सीएम गहलोत के साथ मौजूद थे। पेपर लीक की घटना से दुखी और आक्रोशित महिला ने सीएम गहलोत से कहा- हमारे बच्चों का पेपर लीक हो गया, जिस घर में चार बेटियां हैं और चारों को ही पढ़ा रहे हैं, उसकी एक भी बेटी नहीं लगी नौकरी, परिजन भटक रहे हैं, किसी की नहीं होती सुनवाई, सब आपके हाथ में ही है। 

महिला ने कहा कि वर्ष 2022 में हमारे बच्चों ने दिया पेपर, आप नारा देते हो बेटी पढ़ाओ, बेटियों के साथ बुजुर्ग पिता जाता है परीक्षा दिलाने, वो बाहर बैठा रहता है, बाद में अखबार में पढ़ने को मिलता है कि पेपर लीक हो गया, ऐसे में हम परिजन पर क्या बीतती है? ये सुनवाई करते हो क्या आप? यदि इंसान हो तो समय की कद्र करो। करीब एक मिनिट तक ग्रामीण महिला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने अपना दर्द बयां करती रही। लेकिन सीएम गहलोत और प्रभारी रंधावा सिर हिलाने के सिवा महिला को कोई जवाब नहीं पाए।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!