32.4 C
Jodhpur

पीएम मोदी की सभा में लाखों लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था, जानें इंतजाम

spot_img

Published:

पीएम मोदी राजस्थान के दौरे पर आ रहे हैं। पीएम आज भीलवाड़ा में मालासेरी डूंगरी पर भगवान देवनारायण की 1111 जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आएंगे। उससे पहले भव्य तैयारियां पूरी कर ली गई है। जनसभा को लेकर मंदिर प्रबंधन समिति की खास तैयारी की है। करीब एक लाख लोगों के भोजन की व्यवस्था की गई है। भगवान श्री देवनारायण जी का जन्म मालासेरी डूंगरी में 1111 वर्ष पूर्व माघ माह की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को हुआ था। ऐसे में उनके जन्मोत्सव को ऐतिहासिक बनाने के लिए भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. जिसमें बतौर मुख्य अतिथि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हो रहे हैं. इस जन्मोत्सव को सफल बनाने के लिए पूर्व में मंदिर के पुजारी हेमराज पोसवाल सहित अन्य पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राजनेताओं और अन्य लोगों के माध्यम से पत्र भेजकर यहां आने का निमंत्रण दिया था. पीएम ने इस नियंत्रण को स्वीकार किया और आज वो यहां आ रहे हैं. यहां धर्म सभा को सफल बनाने के लिए मालासेरी मंदिर कमेटी की ओर से पूरे देश में भक्तों को बुलाने के लिए 1111 किलो पीले चावल व मिट्टी बांट न्योता भेजा गया था.

प्रदेश के गुर्जर समाज ने पीएम मोदी से एमबीसी कोटे पर दृष्टिकोण साफ करे की मांग की है। गुर्जर समाज के नेताओं का कहना है कि राजस्थान सरकार ने एमबीसी कोटे के तहत 5 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया है, लेकिन मोदी सरकार ने  MBC विधेयक को 9वीं अनुसूची शामिल नहीं किया। गुर्जर आरक्षण को 9वी अनुसूची में डाला जाए। गुर्जर नेता हिम्मत सिंह का कहना है कि मोदी सरकार ने अभी तक हमारे आरक्षण विधेयक को संविधान की नवीं अनुसूची में शामिल नहीं किया है। इस मांग पर हमारे समाज के सांसद, विधायक सभी चुप है। गुर्जर समाज के बहुत सामाजिक संगठन बनें हुए है तथा नेता भी बहुत है, लेकिन सभी ने रहस्यमय चुपी साध रखी है। हिम्मत सिंह का यह भी कहना है कि अब गुर्जर सभा क्यों नहीं? मोदी जी जब गुर्जर समाज अपने हक़ के लिए सड़कों पर आया तो भाजपा सरकार ने जाति का आंदोलन बता कर 74 युवाओं को शहीद कर दिया। तब गुर्जर हिन्दू नहीं थे। गुर्जर हिन्दू बन गया और हिन्दू धर्म सभा  के नाम से सभा कर रहे है। 

बता दें, पीएम मोदी आज राजस्थान आएंगे। पीएम का भीलवाड़ा जिले का मालासेरी गांव में भगवान देवनारायण की 1111वीं जयंती के मौके पर 28 जनवरी को पहुंचेंगे। पीएम गुर्जरों के आराध्य देव भगवान देवनारायण के मंदिर में दर्शन एवं पूजन करेंगे। राजस्थान में चुनावी साल होने की वजह से पीएम मोदी के दौरे के अलग-अलग सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। राजनीतिक विशलेषकों का कहना है कि पीएम मोदी गुर्जर बाहुलय इलाकों को साधने की कोशिश करेंगे। वसुंधरा राजे के शासन में  राजस्थान में गुर्जर आरक्षण के दौरान 70 से अधिक गुर्जर समाज लोग मारे गए थे। हालांकि, राजस्थान भाजपा नेताओं ने पीएम के दौरे का सियासी मकसद से इनकार किया है। उल्लेखनीय है कि राजस्थान में अंत में साल के अंत में चुनाव होने है। विधानसभा चुनाव 2018 में गुर्जर समाज के लोग बीजेपी से खासे नाराज थे, यही वजह रही कि बीजेपी के गुर्जर उम्मीदवारों को हार का सामना करना पड़ा। गुर्जर बाहुल्य इलाकों में कांग्रेस को बंपर सीट मिली थी 

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!