46.1 C
Jodhpur

दिव्या मदेरणा पर हमला प्रकरण, माकन के निशाने पर कौन? गरमाई सियासत

spot_img

Published:

राजस्थान में जोधपुर ओसियां की विधायक दिव्या मदेरणा पर भोपालगढ़ में मार्केटिंग सोसायटी के चुनाव के दौरान हुए हमले को लेकर राजनीति गरमा गई है। दिव्या पर हमले मामले में राजस्थान के प्रभारी रहे कांग्रेस नेता अजय माकन ने भी विरोध जताया है। माकन ने ट्वीट कर हमला करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। माकन ने दिव्या का साथ देकर एक तीर से दो निशान साधा है। दिव्या के समर्थन के साथ ही सीएम गहलोत को भी आड़े हाथ लिया है। वो ऐसे क्योंकि दिव्या मदेरणा पर हमला करने वाले पाली के पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़ के समर्थक थे। जाखड़ अशोक गहलोत के कट्टर समर्थक हैं और दिव्या के विरोधी हैं। ऐसे में पार्टी फोरम में अगर इस घटना की बात उठती है तो विधायक पर हमला करने के मामले में बद्रीराम जाखड़ का नाम आएगा तो गहलोत को भी सफाई देनी पड़ेगी।

बता दें गत वर्ष 25 सितंबर को कांग्रेस विधायक दल की बैठक आयोजित होनी थी। इसके लिए बतौर पर्यवेक्षक अजय माकन और मल्लिकार्जुन खड़गे आए हुए थे। दिव्या सहित कुछ विधायक सीएम आवास में बुलाई बैठक में पहुंच गए, लेकिन ज्यादातर विधायक शाति धारीवाल के घर एकत्र हुए और अपना इस्तीफा दे दिया जिसके चलते विधायक दल की बैठक नहीं हुई। आलाकमान के आदेश की पालना नहीं हुई। इस घटना को लेकर मंत्री शांति धारीवाल, महेश जोशी और आरटीडीसी के चैयरमेन धर्मेद्र राठौड़ पर कार्रवाई को लेकर दिव्या मदेरणा ने पुरजोर आवाज उठाते हुए माकन का समर्थन किया था। 

इस घटना के बाद भोपालगढ़ पुलिस ने नारायणराम को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। उसकी जमानत भी हो गई क्योंकि विधायक मदरेणा की तरफ से कोई रिपोर्ट नहीं दी गई। इसके चलते मामला दर्ज नहीं हुआ. जोधपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक धर्मेद्र सिंह यादव का कहना है कि हमें अगर रिपोर्ट मिलती है तो हम अभी भी कार्रवाई कर सकते हैं।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!