46.1 C
Jodhpur

दिल्ली एक्साइज पॉलिसी मामले में मनीष सिसोदिया गिरफ्तार, CBI हेडक्वार्टर के बाहर में RAF तैनात

spot_img

Published:

 आबकारी मामले में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि मनीष सिसोदिया दिल्ली एक्साइज पॉलिसी स्कैम मामले में रविवार को सीबीआई के सामने पेश हुए थे. सीबीआई के सामने पेश होने के पहले उन्होंने कहा था कि गलत आरोपों की वजह से अगर उन्हें जेल भी जाना पड़े तो भी वे इससे डरते नहीं हैं.

सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद सीबीआई हेडक्वार्टर के बाहर भारी संख्या में आरएएफ को तैनात किया जा सके ताकि सुरक्षा व्यवस्था को पूरी तरह से बना के रखा जा सके.

सिसोदिया ने कहा, जब मैंने पत्रकार की नौकरी छोड़ी थी तब मेरी पत्नी ने मुझे सपोर्ट किया था. मेरा परिवार मेरे साथ खड़ा है. अगर मुझे गिरफ्तार कर लिया जाता है तो मेरे कार्यकर्ता मेरे परिवार की देखभाल कर लेंगे.

दरअसल, मनीष सिसोदिया को पिछले हफ्ते ही सीबीआई के सामने पेश होने के लिए कहा गया था लेकिन बजट का हवाला देते हुए उन्होंने पेश होने के लिए समय मांगा था. बता दें कि मनीष सिसोदिया के पास फाइनेंस का भी पोर्टफोलियो है.

फतेहपुर बेरी पुलिस स्टेशन के बाहर सिसोदिया के समर्थन में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता पीएम मोदी के खिलाफ नारे लगा रहे थे. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने 50 कार्यकर्ताओं और आप नेताओं को हिरासत में ले लिया. दिल्ली पुलिस ने कहा कि संजय सिंह सहित कई आप नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया. हिरासत में लिए गए लोगों में त्रिलोकपुरी विधायक रोहित कुमार मेहरौलिया, संगम विहार विधायक दिनेश मोहनिया, कुंडली विधायक कुलदीप सिंह, रोहतास नगर पूर्व विधायक सरिता सिंह और दिल्ली के मंत्री गोपाल राय शामिल हैं.

सीबीआई हेडक्वार्टर में जाने से पहले बच्चों से इमोशनल अपील की थी. उन्होंने कहा था कि ये मत समझना कि मनीष चाचा जेल गए तो स्कूलों की छुट्टी होने वाली है. अगर मुझे पता चला कि आप पढ़ाई में लापरवाही कर रहे हैं तो मैं उस दिन खाना नहीं खाऊंगा.

मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, ‘मनीष बेकसूर हैं. उनकी गिरफ्तारी गंदी राजनीति है. मनीष की गिरफ्तारी से लोगों में बहुत रोष है. लोग सब देख रहे हैं. लोगों को सब समझ आ रहा है. लोग इसका जवाब देंगे. इससे हमारे हौसले और बढ़ेंगे. हमारा संघर्ष और मज़बूत होगा.’

इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने ट्विटर पर अरविंद केजरीवाल के हवाले से लिखा कि, “जिस देश में गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा देने वाले जेल में हों और अरबों का घोटाला करने वाले प्रधानमंत्री के जिगरी दोस्त हों वह देश कैसे तरक्की कर सकता है.”

वहीं आम आदमी पार्टी नेता राघव चड्ढा ने कहा, “जेल के ताले टूटेंगे, मनीष सिसोदिया छूटेंगे”

पिछले साल मनीष सिसोदिया के लॉकर में सीबीआई ने सर्च किया था. इसके बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम ने कहा था कि सीबीआई को लॉकर में कुछ भी नहीं मिला. इसके बाद सिसोदिया के निवास सहित दिल्ली एनसीआर के करीब 21 स्थानों पर छापा मारा गया था. इस मामले में दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी ने एलजी को रिपोर्ट भेजी दी. बाद में एलजी ने मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की थी.


[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!