31.9 C
Jodhpur

तानाशाही का एक और उदाहरण, राहुल की सांसदी जाने पर बोले गहलोत 

spot_img

Published:

राजस्थान के मुख्यमंत्रा अशोक गहलोत ने राहुल गांधी की सदस्यता खत्म होने के मामले में बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है।  सीएम गहलोत ने कहा- राहुल गांधी की लोकसभा सदस्यता खत्म करना तानाशाही का एक और उदाहरण है। बीजेपी ये ना भूले कि यही तरीका उन्होंने इन्दिरा गांधी के खिलाफ भी अपनाया था और मुंह की खानी पड़ी। राहुल गांधी देश की आवाज हैं जो इस तानाशाही के खिलाफ अब और मजबूत होगी।

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल जी ने महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और हिंसा का मुद्दा उठाया। इन पर ध्यान देने की जगह भाजपा सरकार राहुल जी के खिलाफ दमनकारी कदम उठा रही है। ये समझ के परे है कि भाजपा नीरव मोदी और ललित मोदी जैसे बेईमानों के समर्थन में क्यों खड़ी हो रही है? भाजपा को बताना चाहिए कि गरीबों के हक को लूटकर विदेश भागने वाले नीरव मोदी, ललित मोदी चोर नहीं हैं?

सीएम गहलोत ने ट्वीट कर कहा- राहुल गांधी सत्य एवं अहिंसा के सिपाही हैं। सरकारी तंत्र के दबाव में वो असत्य के सामने झुकने वाले नहीं हैं। राहुल एवं कांग्रेस पार्टी फासिस्ट ताकतों के खिलाफ मजबूती से लड़ती रहेगी। बता दें सीएम गहलोत इससे पहले भी बीजेपी पर बदले की भावना से काम करने का आरोप लगाते रहे हैं। सीएम गहलोत ने कहा कि देश में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। संविधान की धज्जियां उड़ रही है। देश में तनाव और हिंसा का माहौल है। सीएम गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी बेरोजगारी और महंगाई का मुद्दा लगातार उठा रहे थे। ये सब मोदी को पंसद नहीं है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!