32.4 C
Jodhpur

गुजरात पेपर लीक:कांग्रेस को मिला किरोड़ीलाल को घेरने का मौका, जनें वजह

spot_img

Published:

गुजरात में पेपर लीक मामले का असर राजस्थान की राजनीति पर भी पड़ने के पूरे आसार है। पेपर लीक मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग पर अड़े बीजेपी सांसद को घेरने के लिए कांग्रेस को मौका मिल गया है। हालांकि, कांग्रेस की आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है। लेकिन माना जा रहा है कि पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा किरोड़ी लाल से सवाल पूछ सकते हैं। बता दें, राजस्थान में आरपीएसी सेकेंड ग्रेड शिक्षक भर्ती पेपर लीक मामले में बीजेपी लगातार गहलोत सरकार को घेर रही है। बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीना पेपर लीक की सीबीआई से जांच कराने की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। बीजेपी सांसद का कहना है कि गहलोत के राज में पेपर लीक होना आम बात है। मामले की सीबीआई से जांच करानी चाहिए। किरो़ड़ी का आरोप है कि पेपर लीक में मुख्यमंत्री कार्यालय के बड़े अधिकारी शामिल है। हालांकि, सीएम ने मंत्रियों और अधिकारियों को क्लीन चिट दे दी है।

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने गुजरात में पेपर लीक होने के मामले पर प्रतिक्रिया दी है। सीएम गहलोत ने ट्वीट कर कहा-आज गुजरात में पंचायत सर्विस सेलेक्शन बोर्ड ने जूनियर क्लर्क की भर्ती परीक्षा पेपर लीक के कारण रद्द की है। यह दिखाता है कि देशभर में पेपर लीक एक विकट समस्या बन गया है। गुजरात में यह पिछले सालों में 17वां पेपर लीक है। सेना भर्ती, हाईकोर्ट भर्ती, DRDO भर्ती तक में पेपर लीक व अनियमितताओं की शिकायत आई हैं जो दिखाता है कि यह समस्या कितनी गंभीर है। राजस्थान में पेपर लीक को गंभीरता से लेकर सख्त कार्रवाई की गईं हैं। पेपर लीक में शामिल लोगों को जेल भेजा गया, नौकरी से बर्खास्त किया गया एवं माफियाओं की अवैध संपत्ति ध्वस्त की गई।
मैं आशा करता हूं कि बाकी सरकारें भी युवाओं के भविष्य को ध्यान में रखकर ऐसी ही गंभीरता से काम करेंगी। सभी सरकारों को पेपर लीक की देशव्यापी समस्या को लेकर व्यापक हल निकालने पर विचार करना चाहिए जिससे युवाओं का भविष्य सुरक्षित हो सके।

बता दें, गुजरात में 29 जनवरी यानी आज आयोजित होने वाली जूनियर क्लर्क भर्ती परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। गुजरात पंचायत सर्विस सेलेक्शन बोर्ड की तरफ से यह फैसला लिया गया है। इस मामले में गुजरात एटीएस की जांच जारी है। अब तक 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।  गुजरात एटीएस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों में से पांच गुजरात के ही रहने वाले हैं. हैदराबाद, उड़ीसा, मद्रास में एटीएस की जांच जारी है. जल्द ही मामले में शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!