31.9 C
Jodhpur

गलती से दबा एयर गन का ट्रिगर, छर्रा घुसने से 17 वर्षीय किशोर की मौत

spot_img

Published:

कोटा जिले के कैथून थाना इलाके के झालीपुरा गांव में एयरगन चलने से 17 वर्षीय छात्र की मौत हो गई। मृतक छात्र मणिकरण अपने भाइयों को एयरगन को चलाने के बारे में जानकारी दे रहा था। इसी दौरान ट्रिगर दब गया और छर्रा आंख के पास से होता हुआ ब्रेन में जाकर फंस गया था। ब्रेन में छर्रा फंसने के कारण डॉक्टर ने उम्मीद छोड़ दी थी। परिजन संतुष्टि के लिए उसे हायर सेंटर पर लेकर गए थे। वहां भी डॉक्टरों ने जवाब दे दिया। आखिरकार परिवार गुरुवार रात को उसे फिर कोटा लेकर आया। इस बीच शुक्रवार को छात्र मणिकरण ने दम तोड़ दिया।

पिता परविंदर सिंह ने बताया कि हादसे की जानकारी मिलने पर जब वो घर पर पहुंचे तो तो मणिकरण बेहोश था। कुछ बोल नहीं पा रहा था। इसके बाद उसे तुरंत ही कोटा लेकर आए। जहां एडमिट किया तो पता चला गन का छर्रा आंख से होते हुए दिमाग तक जा पहुंचा है। उसकी हालत देखते हुए उसे जयपुर के हॉस्पिटल रेफर किया गया है। मणिकरण का परिवार खेती करता है। इस हादसे के बाद परिवार के दूसरे बच्चे भी डरे हुए हैं।

वहीं, इस मामले में एमबीएस हॉस्पिटल के सर्जरी विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉक्टर नीरज देवंदा का कहना है कि रात को उनकी यूनिट की टीम के डॉक्टर ने चेक किया था। छर्रा ब्रेन में चला गया था। न्यूरो सर्जन को मौके पर बुलाकर चेक करवाया था। ब्रेन डेड होने जैसी कंडीशन होने पर उन्होंने ऑपरेशन की उम्मीद से इनकार कर दिया और परिजनों को भी इसके बारे में बता दिया था।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!