25.7 C
Jodhpur

अशोक गहलोत ने सचिन पायलट की बगावत की तुलना कोरोना से की, जानें वजह

spot_img

Published:

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इशारों में सचिन पायलट की बगावत की तुलना कोरोना से की है। सीएम गहलोत ने सचिवालय में कर्मचारियों से संवाद के दौरान कर्मचारी नेता शमशेर भालू खान ने मुख्यमंत्री के नहीं मिलने की बात कही तो गहलोत ने बात काटते हुए कहा- आप ठीक कह रहे हो, मैं मिलने लगा हूं, पिछले सोमवार को मिला था। क्या हुआ कि पहले कोरोना आ गया। फिर एक बड़ा कोरोना और आ गया हमारी पार्टी के अंदर। हालांकि, सीएम गहलोत ने सचिन पायलट का नाम नहीं लिया। माना जा रहा है कि सीएम गहलोत का इशारा वर्ष 2020 में सचिन पायलट की बगावत की तरफ था। सीएम नहीं बनाने से नाराज होकर सचिन पायलट अपने समर्थक विधायकों के साथ गुड़गांव के होटल में कैंप किए हुए थे।

पायलट कह रहे राजस्थान में सरकार रिपीट होगी, पर पेपर लीक का जिक क्यों  

सीएम अशोक गहलोत ने बुधवार को बजट पूर्व कर्मचारियों के साथ सचिवालय में बैठक की थी। सीएम गहलोत ने कर्मचारियों से संवाद किया और उनकी समस्याएं जानी। इस दौरान कर्मचारी संगठनों के नेताओं ने सीएम गहलोत को अपनी मांगों से अवगत कराया। बातचीत के दौरान सीएम गहलोत ने कहा कि कभी उपचुनाव, कभी राज्यसभा चुनाव। राज्यसभा चुनाव में भी वोट कहीं पड़ रहा है हम कहीं हैं। बहुत खराब टाइम था। जो टाइम बीता है न, वह अलग तरह से बीता है। इसके बावजूद भी आपके सहयोग, आशीर्वाद, समर्थन और दुआओं से हम शानदार स्कीम लेकर आए हैं, उस कारण से सब बातें ढक गई हैं। अगर हमारे बजट अच्छे नहीं होते तो आप और हम जिस माहौल में बात कर रहे हैं, वह नहीं कर पाते।

सचिन पायलट ने CM अशोक गहलोत को लिखा पत्र, जानें क्या है मांग

सीएम गहलोत ने कर्मचारी नेताओं से कहा कि चार साल में जो बर्बादी हुई है हमारी खुद की, जिस प्रकार से दिन खराब हुए हैं। मिलना नहीं, जुलना नहीं। कभी कोरोना से टाइम नहीं मिला। फिर मुझे तीन बार कोरोना हो गया। पोस्ट कोविड से फिर हार्ट का स्टेंट लग गया। मैं आप लोगों की शिकायत से सहमति रखता हूं। अब मैं मिलने लगा हूं। सोमवार को मिलता हूं और अगर जरूरी काम से बाहर चला गया तो आपको मिलने का समय बता दूंगा।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!