46.1 C
Jodhpur

अलवर में ACB ने इंजीनियर को 6 लाख की रिश्वत राशि लेते पकड़ा 

spot_img

Published:

राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने पीडब्ल्यूडी विभाग में क्वालिटी कंट्रोल अधीक्षण अभियंता के पद पर तैनात रामेश्वर सिंह जाटव को 6 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। इससे पहले भी रामेश्वर सिंह ने कॉन्ट्रैक्टर एक बार 2.5 लाख रुपए तो एक बार 1.5 लाख रुपए की रिश्वत ली थी। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि एसीबी को पीडब्ल्यूडी विभाग के क्वालिटी कंट्रोल विभाग में तैनात अधीक्षण अभियंता रामेश्वर सिंह जाटव की ओर से 6 लाख की रिश्वत मांगने की शिकायत मिली। इस पर एसीबी ने मामले का सत्यापन करवाया. मामला सही पाए जाने के बाद एसीबी के अधिकारियों ने कॉन्ट्रैक्टर को पैसे देकर रामेश्वर सिंह के पास भेजा. अलवर सरस डेयरी के पास कॉन्ट्रैक्टर ने रामेश्वर सिंह को 6 लाख रुपए की रिश्वत दी।

एसीबी की टीम ने रामेश्वर सिंह को रिश्वत की राशि के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले रामेश्वर सिंह चार लाख रुपए रिश्वत ले चुका है। उसके खिलाफ लंबे समय से रिश्वत की शिकायतें मिल रही थी। एसीबी की टीम ने 2 लाख रुपए की राशि व 4 लाख रुपए डमी राशि लेकर कॉन्ट्रैक्टर को रामेश्वर सिंह जाटव के पास भेजा था। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि अधीक्षण अभियंता लंबे समय से कांट्रेक्टर से रिश्वत वसूल रहा था. पुराने मामलों की भी जांच पड़ताल की जा रही है। कांट्रेक्टर का मोबाइल जब्त कर लिया गया है। साथ ही उसके बैंक खातों को भी चेक करने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने कहा कि कांट्रेक्टर के घर व ऑफिस की फाइलों को भी चेक करने में टीम लगी हुई है. आरोपी अधीक्षण अभियंता से पूछताछ की जा रही है।

कांट्रेक्टर की ओर से भवन, सड़क, नाला और जिस चीज का निर्माण कार्य किया जाता है, उस कार्य को पूर्ण होने के बाद पीडब्लूडी विभाग स्थित क्वालिटी कंट्रोल विभाग से उसे एनओसी लेनी पड़ती है। एनओसी मिलने के बाद ही उसके कार्य का भुगतान मिलता है। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि कांट्रेक्टर से अधीक्षण अभियंता ने क्वालिटी कंट्रोल की एनओसी जारी करने की एवज में रिश्वत की राशि मांगी थी। इससे पहले भी एस्टीमेट साइन करने व अन्य कार्यों के लिए वो कांट्रेक्टर से मोटी राशि वसूल चुका है।

[bsa_pro_ad_space id=2]
spot_img
spot_img

सम्बंधित समाचार

Ad

spot_img

ताजा समाचार

spot_img
error: Content is protected !!